Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को भेज रहे हैं गृह राज्यों में : डा.ढाका


    पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को भेज रहे हैं गृह राज्यों में : डा.ढाका


    सीटीएम डा.सुभिता ढाका बोली, पंजीकृत प्रवासी श्रमिक भेजने की समुचित व्यवस्था प्रशासन की 

    झज्जर से सोमवार को 116 प्रवासी भेजे बिहार, पं.बंगाल व ओडिशा

    झज्जर।  कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान हुए लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिकों द्वारा अपने गृह राज्यों को जाने की जताई गई इच्छा को पूरा करते हुए हरियाणा सरकार की ओर से निशुल्क विशेष श्रमिक ट्रेन व बसों के माध्यम से गंतव्य की ओर रवाना किया जा रहा है। झज्जर डीसी जितेंद्र कुमार के दिशा-निर्देशानुसार संबंधित राज्यों के नोडल अधिकारियों से तालमेल स्थापित करते हुए पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को झज्जर व बहादुरगढ़ मुख्यालय से भेजने की समुचित व्यवस्था प्रभावी ढंग से की जा रही है। सोमवार को झज्जर जिला मुख्यालय से 116 पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को रोडवेज बसों में बैठाकर गुरूग्राम रेलवे स्टेशन के लिए रवाना किया गया जोकि गुरूग्राम से बिहार, पश्चिम बंगाल व ओडिशा जाने वाली विशेष ट्रेन से गंतव्य की ओर रवाना होंगे।


     शेड्यूल अनुसार भेजा जा रहा है प्रवासी श्रमिकों को : सीटीएम

    झज्जर जिला प्रशासन की ओर से पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को भेजने के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी एवं सीटीएम डा.सुभिता ढाका ने बताया कि झज्जर जिला से बिहार, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश, असम, नागालेंड, अरूणाचल प्रदेश, सिक्किम राज्यों सहित अब पश्चिम बंगाल व ओडिशा के पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को निर्धारित शेड्यूल अनुसार भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि एसडीएम झज्जर शिखा की देखरेख में झज्जर जिला मुख्यालय से तथा एसडीएम बहादुरगढ़ तरूण पावरिया की देखरेख में बहादुरगढ़ उपमंडल मुख्यालय से नियमित तौर पर शेड्यूल अनुसार प्रवासी श्रमिकों को भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को भेजने से पहले अस्थाई शेल्टर होम में बुलाया जाता है जहां उनके रात्रि ठहराव के साथ ही रात्रि भोजन व सुबह के नाश्ते का प्रबंध प्रशासन की ओर से किया जा रहा है। अस्थाई शेल्टर होम में प्रवासी श्रमिकों का चिकित्सक टीम द्वारा थर्मल स्केनिंग करते हुए स्वास्थ्य की जांच की जा रही है और उसके बाद ही गंतव्य की ओर पानी की बोतल, बिस्कुट पैकेट सहित फेस मास्क देकर उन्हें रवाना किया जा रहा है।
    एसडीएम झज्जर शिखा ने बताया कि सोमवार की सुबह झज्जर शहर के राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय परिसर में बनाए गए अस्थाई शेल्टर होम से 85 पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों को तथा झाड़ली क्षेत्र से 31 प्रवासी श्रमिकों को गुरूग्राम के लिए बसों में बैठाकर रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि तहसीलदार नरेंद्र दलाल, नगरपालिका सचिव अरूण नांदल सहित शिक्षा विभाग से डा.सुदर्शन पूनिया की मौजूदगी में उक्त प्रवासी श्रमिकों को गुरूग्राम भेजा गया है।

    राहुल चौहान

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.