Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    प्लॉट पर कब्जे को लेकर दो पक्ष भिड़े, हुआ खूनी संघर्ष, कई लोग घायल


    प्लॉट पर कब्जे को लेकर दो पक्ष भिड़े, हुआ खूनी संघर्ष, कई लोग घायल


    पलवल। पलवल के निकटवर्ती गाँव लोहागढ़ में जमीन के एक प्लॉट पर कब्जे को लेकर दो पक्षों के बीच चले आ रहे विवाद में एक पक्ष ने दूसरे पक्ष से प्लॉट को कब्जाने के लिए तोड़फोड़ करते हुए दूसरे पक्ष की महिलाओं को पीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। घायल महिलाओं को उपचार के लिए पलवल की जिला अस्पताल में लाया गया जहां से दो महिलाओं की गंभीर हालत होने के कारण ऑल इंडिया मेडिकल इंस्टिट्यूट दिल्ली रेफर कर दिया गया पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

    पलवल जिला अस्पताल की इमरजेंसी वार्ड में उपचाराधीन दिखाई दे रही महिलाएं लोहागढ़ गांव की निवासी हैं जिनका कहना है कि उन्होंने 1 साल पहले 130 गज का प्लॉट किसी से खरीदा था। 130 गज के प्लॉट में से 65- 65 गज के द्वारा लिस्ट में दो बहनों के नाम राजस्व विभाग में रजिस्टर्ड है लेकिन उत्तर प्रदेश के रामपुर गांव निवासी कुछ लोग इस प्लॉट को अपना बताकर कब्जा करने की नियत से लाठी-डंडों से साजबाज होकर उनके प्लॉट पर आ गए और प्लॉट की चार दिवारी को तोड़ने लगे जब इन महिलाओं ने दूसरे पक्ष के इन प्रयासों का शांतिपूर्वक विरोध किया दोनों ने लाठी-डंडों से महिलाओं पर हमला कर फाइल कर दिया घायलों में राजेंदरी, माया, उर्मिला तथा रामदेई प्रमुख हैं। 

    पीड़ित पक्ष का कहना है कि उनकी तरफ से घर का कोई भी पुरुष उस समय मौजूद नहीं था और महिलाओं ने मदद के लिए पुलिस के पास फोन किया तो पुलिस ने 2 घंटे तक कोई रिस्पांस नहीं दिया। तब तक हमलावर खूनी खेल खेलकर मौके से फरार हो चुके थे। पीड़ितों ने आरोप लगाया कि हमलावर उन्हें यह धमकी भी दे रहे थे कि पुलिस उठकर नहीं आएगी क्योंकि वह पुलिस को पैसे देकर आए हैं। पलवल जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर लोहागढ़ से चार महिलाएं उपचार के लिए आई थी जिनमें से 2 महिलाओं को यहां पर इलाज के लिए दाखिल कर लिया है जबकि एक महिला को सिर में काफी गंभीर चोट होने के चलते एम्स के लिए रेफर कर दिया गया। 

    फिलहाल पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ हरिजन एक्ट के तहत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है  कैम्प थाना प्रभारी यादराम का कहना है कि आरोपी के खिलाफ भी जमीन की धोखा धड़ी के मुकदमा दर्ज है मामले की जांच पलवल dsp कर रहे हैं कई लोगों को झगडे में चोटें लगी हैं लेकिन अभी तक किसी भी आरोपी की गिरफ़्तारी नहीं हो पाई है।

    पलवल से ऋषि   भारद्वाज की रिपोर्ट 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.