Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सफेद धातु के सिक्के चैन,हार, लैपटॉप 40,000 रु, कट्टा कारतूस के साथ अभियुक्तों को पुलिस ने धर दबोचा


    सफेद धातु के सिक्के चैन,हार, लैपटॉप 40,000 रु, कट्टा कारतूस के साथ अभियुक्तों को पुलिस ने धर दबोचा


    बलिया।  उत्तर प्रदेश के बलिया शहर कोतवाली के बिचला घाट चौकी , क्षेत्र अंतर्गत बेदुआ बंधा पर प्रभारी रोहन राकेश सिंह वर्मा उनकी टीम ने, मिली सूचना के आधार पर सख्ती से चेकिंग के दौरान  चोरी के सामान के साथ 1 तमंचा 1 जिन्दा कारतूस व चाकू लैपटॉप,कैमरा,हार, चेन व 27 सफेद धातु के सिक्के के साथ 40,000/- रुपये नकद के साथ दो अभियुक्तों को पुलिस ने धर दबोचा और उसके बाद आरोपियों को जेल भेज दिया।

    पुलिस अधीक्षक बलिया द्वारा अपराध एवं अपराधियों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान में उ0नि0 रोहन राकेश सिंह चौकी प्रभारी बिचलाघाट थाना कोतवाली मय हमराह के देखभाल क्षेत्र, चेकिंग संदिग्ध व्यक्ति/वाहन हेतु बेदुआ बंधा पर मौजूद थे कि मुखबीर द्वारा सूचना मिली कि ग्राम बेदुआ थाना कोतवाली अर्न्तगत दिनांक 14.06.2020 को विश्वामित्र वर्मा के घर चोरी की घटना हुयी थी। जिसके सम्बन्ध में थाना कोतवाली पर मु0अ0स0 174/20 धारा 380,457 पंजीकृत है। उससे सम्बन्धित सामान को लेकर दो व्यक्ति पल्सर मोटर साइकिल से महाबिर घाट से गायत्री मंदिर होते हुये बिहार जाने वाले हैं। 

    इस सूचना पर विश्वास कर चौकी प्रभारी अपनी टीम के साथ महाबिर घाट पहुंच कर इंतजार करने लगे कि एक मोटर साइकिल पर सवार दो व्यक्ति आते हुये दिखाई दिया जो अचानक पुलिस वालों को देखकर गाड़ी मोड़ कर भागना चाहता था जिससे  आवश्यक पुलिस बल प्रयोग कर समय रहते पकड़ लिया गया। नाम पता पूछते हुये भागने का कारण पूछा गया तो एक ने अपना नाम उमेश कुमार पुत्र धनेश्वर राम निवासी राजपुत नेवरी थाना कोतवाली बलिया तथा दूसरे ने अपना नाम कन्हैया उर्फ मैनीया पुत्र राजू ठाकुर निवासी यारपुर बेंदुआ थाना कोतवाली बलिया बताया और कहा कि वे लोग चोरी को सामान बेचने जा रहे थे। 

    जब तलाशी ली गयी तो उमेश के पास एक झोले में 01 अदद लैपटॉप, 01 अदद कैमरा, 01 अदद हार,01 अदद चेन व 27 अदद सफेद धातु के सिक्के, 30,000/- रूपये नकद तथा उसके कब्जे से 01 अदद तमंचा मय 01 अदद जिंदा कारतूस 315 बोर, एक अदद आधार कार्ड एवं दूसरे का तलाशी ली गयी तो उसके कब्जे से 10,000/- रूपये नकद व एक अदद चाकू बरामद किया गया। बरामद सामान, असलहों तथा मोटर साइकिल का कागजात मांगा गया तो दिखाने में असमर्थ रहे।

    इस सम्बन्ध में  स्थानीय थाने  पर मुकदमा दर्ज  कर जरूरी कानूनी   कार्यवाही कर अभियुक्तों को जेल भेज दिया  गया।

    आसिफ जैदी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.