Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    केंद्र सरकार द्वारा रोजगार के लिए चयनित प्रदेश के 31 जिलों में बलिया को शामिल नहीं करने पर सपा ने इसे बताया छलावा


    केंद्र सरकार द्वारा रोजगार के लिए चयनित प्रदेश के 31 जिलों में बलिया को शामिल नहीं करने पर सपा ने इसे बताया छलावा


    बलिया।  केंद्र सरकार द्वारा रोजगार के लिए चयनित प्रदेश के 31 जिलों में बलिया को शामिल नहीं करने को समाजवादी पार्टी ने गंभीरता से लेते हुए इसे जिले के साथ छलावा बताया है. वरिष्ठ सपा नेता व प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री नारद राय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर जिले के सभी जनप्रतिनिधियों से मांग किया है कि वे प्रधानमंत्री से मांग कर बलिया को भी उस सूची में शामिल कराए वर्ना समाजवादी पार्टी जिले के नौजवानों, बुद्धिजीवी वर्ग को साथ लेकर व्यापक आंदोलन चलाएगी.

    विज्ञप्ति में श्री राय ने कहा कि केंद्र सरकार ने उस बलिया को ठेंगा दिखाने का कार्य किया है जिसने लोकसभा व  विधानसभा चुनाव में भाजपा की पूरी झोली भर दी. वर्तनाम समय में जिले में भाजपा के पांच विधायक व चार सांसद जिसमें दो लोकसभा से और दो राज्यसभा से हैं. केंद्र सरकार का निर्णय निंदनीय है और इसकी घोर भर्तसना होनी चाहिए. कहा कि केंद्र सरकार ने अपने निर्णय से यह सिद्ध किया कि बलिया उसने विकास के एजेंडे में नहीं,  सिर्फ उत्तर प्रदेश के नक्शे में है. कहा कि जारी जिलों की सूची में ऐसे भी जिले शामिल हैं जहां से प्रतिवर्ष दूसरे प्रांतों में जाने वाले श्रमिकों की संख्या सैकड़े में ही है. ऐसे में बलिया को इस सूची से बाहर रखना समझ से परे है. जहां से दस लाख से अधिक लोग अपने परिवार के भरण पोषण के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में जाते हैं और किसी भी स्तर का कार्य करने के लिए तैयार रहते हैं. ऐसे में बलिया को रोजगार प्रदान करने वाले जिलों की सूची में शामिल नहीं किया जाना हास्यास्पद है. श्री राय ने मांग किया कि जिले के सभी जनप्रतिनिधि इसे गंभीरता से लें और बलिया को रोजगार उपलब्ध कराने वाले जिलों में शामिल कराया जाए.

    आसिफ जैदी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.