Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    08 जून को धार्मिक स्थलों के खुलने से पहले सारी व्यवस्थाएं पूर्ण करने के निर्देश


    08 जून को धार्मिक स्थलों के खुलने से पहले सारी व्यवस्थाएं पूर्ण करने के निर्देश


    सीतापुर।  जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में शनिवार को जनपद के प्रमुख धार्मिक स्थलों यथा मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारा, चर्च आदि के पुजारी, महंत, मौलबी, ग्रन्थी, फादर आदि के साथ बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कोविड-19 में लाॅकडाउन एवं कोरोना प्रोटोकाल के अनुपालन के दृष्टिगत धार्मिक स्थलों को खोले जाने के संबंध में विस्तार से चर्चा की। जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिये कि सभी धार्मिक स्थलों पर सोशल डिस्टेंंिसंग का पालन अनिवार्य रूप से कराया जाये। इसके लिये स्थल के बाहर प्रवेश मार्ग पर 06-06 फीट की दूरी पर गोले बना लिये जायें तथा लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग पालन अनिवार्य रूप से किये जाने हेतु प्रेरित किया जाये। इसके साथ ही बाहर हाथ धोने के लिये साबुन और पानी एवं सेनिटाइजर का प्रबंध किया जाये। सभी धार्मिक स्थलों पर यह सुनिश्चित किया जाये कि कोई भी व्यक्ति बिना मास्क के प्रवेश न करें। उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थलों पर सेनेटाईजर छिड़काव के लिये स्प्रे मशीन व थर्मल स्क्रीनिंग का भी प्रबंध किया जाये। उन्होंने सभी उपजिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारियों को निर्देश दिये कि 08 जून से पूर्व सभी धार्मिक स्थलों का भ्रमण कर आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर लें। 

    जिलाधिकारी ने कहा कि 65 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं, 10 वर्ष से छोटे बच्चों, गम्भीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्तियों का प्रवेश पूर्णतया प्रतिबन्धित रखा जाये। साथ ही आने वाले लोगों को धार्मिक स्थलों की वस्तुओं यथा घण्टा, रेलिंग, मूर्ति आदि को छूने से रोका जाये तथा एक प्रतिशत सोडियमहाईपोक्लोराईट से नियमित रूप से छिड़काव कराया जाये। प्रसाद वितरण, टीका लगाना आदि से भी सीधा सम्पर्क होता है इसलिये इनसे भी बचा जाये। जूता, चप्पल आदि निकालने की उचित व्यवस्था की जाये। उन्होंने सभी प्रतिनिधियों का आहवान करते हुये कहा कि सभी अपने परिसरों की साफ-सफाई करते हुये निर्देशों का शतप्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करें। 

    बैठक के दौरान पुलिस उपमहानिरीक्षक/पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मास्क का प्रयोग सभी के लिये अनिवार्य है तथा सार्वजनिक स्थलों पर थूकना प्रतिबन्धित है। लाॅकडाउन-5 में रात्रि 09.00 बजे से प्रातः 05.00 बजे तक निकलना पूर्णतया प्रतिबन्धित है। इसलिये इन नियमों का कड़ाई से पालन करना सुनिश्चित किया जाये। साथ ही यह वायरस छूने से तेजी से फैलता है इसलिये इसका ध्यान रखते हुये पूरी व्यवस्था बनायी जाये। उन्होंने नियमों को तोड़ने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने की चेतवानी भी दी।

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 आलोक वर्मा ने कोरोना वायरस से बचाव हेतु विस्तारपूर्वक जानकारी दी तथा सुझाव दिया कि धार्मिक स्थलों के प्रतिनिधि मार्ग में कोरोना बचाव से सावधानी संबंधी पोस्टर अवश्य प्रदर्शित करें जिससे लोगों में जागरूकता बढ़ सके। साथ मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने आरोग्य सेतु ऐप सभी डाउनलोड कराने की अपील भी की। 

    बैठक के दौरान उपस्थित विभिन्न धार्मिक स्थलों के प्रतिनिधियों ने जिला प्रशासन द्वारा अभी तक की गयी कार्यवाहियों की प्रशंसा करते हुये आगे भी पूरा सहयोग दिये जाने का आश्वासन दिया।

    बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी विनय कुमार पाठक, अपर पुलिस अधीक्षक मधुवन कुमार सिंह एवं महेन्द्र प्रताप सिंह, नगर मजिस्ट्रेट पूजा मिश्रा, सभी उपजिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी व विभिन्न धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे। 

    शरद कपूर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.