Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लापरवाही करने वाले दुकानदारों के विरुद्ध होगी वैधानिक कार्यवाही-- जिलाधिकारी



    लापरवाही करने वाले दुकानदारों के विरुद्ध होगी वैधानिक कार्यवाही-- जिलाधिकारी


    सीतापुर। नई गाइडलाइन के साथ बुधवार को खुलेगी शहर की मुख्य बाजार। डीएम ने दुकानदारों के लिए तैयार की सूची, इसी सूची के आधार पर अब खोले जाएंगे सभी प्रतिष्ठान व दुकानें। इसके साथ ही समय का ध्यान रखते हुए दुकानदार अपनी दुकान को खोल सकेंगे, निश्चित समय में ही बंद करनी होगी दुकानें। साथ ही सभी दुकानदारों को निम्नलिखित नियमों का पूरी सख्ती से पालन करना अनिवार्य होगा, लापरवाही की दशा में दिए गए आदेश वापस लिए जा सकते हैं व दुकानदार के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी |


    जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने बताया कि प्रत्येक दुकानदार को निम्नलिखित प्रतिबंधों का पालन करना अनिवार्य होगा |

    1.किसी भी दशा में दुकान में एक समय में 05 से अधिक व्यक्ति (दुकान मालिक, सेल्समैन एवॅ ग्राहक मिलाकर) नही रहेगें।

    2.अगर जनपद में कोई भी हाॅट स्पाट, कन्टेनमेन्ट जोन या बफर जोन घोषित होता है तो पूर्व के जारी किये गये प्रतिबन्ध पुनः लागू हो जायेगें और आवश्यक गतिविधियाॅ ही संचालित होगीं।

    3.प्रत्येक दुकानदार को सुनिश्चित करना अनिवार्य होगा कि 65 वर्ष से अधिक आयु का व्यक्ति एवं 10 वर्ष से कम आयु के बालक का दुकान पर प्रवेश वर्जित होगा। पूर्व से हृदय, किडनी, लीवर एवॅ लंग्स आदि की बीमारी से ग्रसित व्यक्ति अथवा गर्भवती महिला का दुकान पर प्रवेश वर्जित होगा। प्रत्येक दुकानदार को इस आशय का पोस्टर एवॅ फ्लैक्स दुकान के बाहर दृश्य स्थान पर लगाना अनिवार्य होगा।

    4.दुकान मालिक, ग्राहक एवं सेल्समैन मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करेगें। दुकानों में प्रवेश करते समय ग्राहक को हैण्डवाश/सैनिटाइजेशन करना अनिवार्य है। दुकान के अन्दर बाहर प्रत्येक दरवाजें, शटर एवॅ कुण्डी आदि को लगातार सिनेटाइज करना अनिवार्य है। दुकान के अन्दर किसी प्रकार का खाद्य सामग्री/पेय पदार्थ सर्व नही की जायेगी।

    5.प्रत्येक दुकानदार यह सुनिश्चित करेगा कि दुकान नियत समय पर खोली व बन्द की जायेगी।

    6. मिठाई, बर्फ, आइसक्रीम, कोल्डड्रिन्क, मीट, मछली अण्डा आदि की आपूर्ति नही की जायेगी। मिठाई एवं अन्य खाद्य पदार्थ की दुकानें खोलने से किसी भी दशा में संक्रमण का खतरा न हो, यह सुनिश्चित करने के लिये  दुकान के किचेन  का निरीक्षण कर कुक एवं मैनेजर का प्रशिक्षण खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन से प्राप्त करने के उपरांत खोले जाने पर विचार किया जाएगा | इसी क्रम में ऑटोमोबाइल्स के शोरूम के बारे में संबंधित फर्मो द्वारा आवेदन करने पर विचार किया जाएगा| जिले में स्थापित शेष बड़ी फैक्ट्री के खुलने के बारे में दी गई गाइडलाइंस का पूरी कराई कड़ाई से पालन करने की स्थिति में उन्हें खोलने की विचार किया जा सकता है |

                  जिला अधिकारी श्री तिवारी ने बताया कि यदि किसी भी दशा में इसकी अनदेखी, लापरवाही या जानबूझकर नियमों की अवहेलना की जाती है तो संबंधित दुकान मालिक के विरुद्ध धारा 188 आईपीसी एवं महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत करते हुए दुकान को सील भी किया जा सकता है ।

    शरद कपूर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.