Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के पदाधिकारियों ने धूमधाम से मनाई पृथ्वीराज चौहान की जयंती



    अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के पदाधिकारियों ने धूमधाम से मनाई  पृथ्वीराज चौहान की जयंती 

    लखनऊ। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय व रामवंशज राजा राजेंद्र सिंह के निर्देशानुसार महासभा के समस्त पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने महान सम्राट पृथ्वीराज चौहान जी की जयंती को बडे ही धूमधाम से मनाया.
    अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री/ राष्ट्रीय आईटी सेल प्रमुख ने महान सम्राट पृथ्वीराज चौहान जी के चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हमारे पूर्वज सम्राट पृथ्वीराज चौहान जी का नाम भारतीय इतिहास मे अविस्मरणीय है. हिंदुत्व के योद्धा कहे जाने वाले चौहान वंश मे जन्मेें पृथ्वीराज चौहान आखिरी हिन्दू शासक भी थे. महज 11 वर्ष की उम्र मे, उन्होने अपने पिता की मृत्यु के पश्चात दिल्ली और अजमेर का शासन संभाला और उसे कई सीमाओ तक फैलाया भी था, परंतु अंत मे वे विश्वासघात के शिकार हुये और अपनी रियासत हार बैठे, परंतु उनकी हार के बाद कोई हिन्दू शासक उनकी कमी पूरी नहीं कर पाया . पृथ्वीराज को राय पिथोरा भी कहा जाता था .पृथ्वीराज चौहान बचपन से ही एक कुशल योध्दा थे, उन्होने युध्द के अनेक गुण सीखे थे. उन्होने अपने बाल्यकाल से ही शब्ध्भेदी बाण विद्या का अभ्यास किया था ।


    पंकज सिंह चौहान प्रदेश उपाध्यक्ष अ०भा०क्ष०महासभा ने अन्य समाजों को संदेश देते हुए कहा कि राजपूतों की नकल करना छोड़ दें नकल करने से राजपूत नही बन जाओगे राजपूत अपने कर्मों से पहचाना जाता है नकल करने बालो  भगवान से प्रार्थना करो अगले जन्म में राजपूतों के घर जन्म दें।
    नेहा चौहान, प्रधान उधना डॉ. अभय चौहान, धीरेंद्र चौहान सुमित चौहान , सनी चौहान विनय चौहान,कल्लू प्रधान डूड़वा सुमित सिंह, एम पी सिंह अर्कवंशी व अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के सभी पदाधिकारियों सहित क्षत्रिय समाज के लोगों ने अपने अपने घरों पर सम्राट पृथ्वीराज चौहान जी की जयंती बड़ी धूमधाम से मनाया. 

    लखनऊ डेस्क

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.