Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जमीनी विवाद के चलते एक परिवार ने दूसरे परिवार को बुरी तरह पीटा,


    जमीनी विवाद के चलते एक परिवार ने दूसरे परिवार को बुरी तरह पीटा,


    तस्वीरें हुई कैमरे में कैद लेकिन पुलिस ने नहीं की कार्रवाई, अब गांव छोड़ पीड़ित परिवार जाने को है मजबूर

    (कुम्भकर्णी नींद में सोई फरीदाबाद पुलिस)

    फरीदाबाद ।  जी हाँ यह बात हम इसलिए कह रहे है। क्योंकि झगड़े में घायल एक पीड़ित परिवार फरीदाबाद में पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट होकर अब गांव छोड़ने को मजबूर है । घटना दिल्ली से सटे थाना सूरजकुंड इलाके के पल्ला की है। पीड़ित परिवार के मुताबिक जमीनी विवाद के चलते उन्हीं के परिवार के सदस्यों ने उन्हें बुरी तरह पीटा जिसके चलते परिवार के कई सदस्य गंभीर रूप से घायल हुए थे । घटना लगभग 20 दिन पहले की है तब मारपीट की वीडियो सहित पीड़ित परिवार ने थाना सूरजकुंड को इसकी शिकायत की थी लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कि इसी बीच आरोपियों ने उनपर फिर दुबारा लगभग 8 दिन पहले हमला कर घायल कर दिया। जिसकी शिकायत उन्होंने फिर पुलिस से लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। उल्टे हमला करने वाला परिवार उन्हें फिर जान से मारने की धमकियां दे रहा है। अब तीसरी बार मारपीट और झगड़े के डर और पुलिस की कार्यवाही से असंतुष्ट होकर वह अब गांव छोड़कर जाने के लिए मजबूर है।

    झगड़े की तस्वीरों को जरा गौर से देखिए यह तस्वीरें दिल्ली से सटे थाना सूरजकुंड के पल्ला क्षेत्र की है । बता दें कि ये तस्वीरें लगभग 20 दिन पुरानी है इस झगड़े में एक परिवार के कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे । जिसकी शिकायत पीड़ित परिवार ने पुलिस से की थी और यह मारपीट का वीडियो भी पुलिस के सामने पेश किया था लेकिन पुलिस ने तो उनका मेडिकल कराने की जहमत उठाई और बल्कि आज तक मौके पर जाकर मौका मुआयना भी नहीं किया। पीड़ित परिवार के मुताबिक शिकायत करने के बाद भी आरोपी पक्ष उन्हें बार-बार धमकियां दे रहा है और 8 दिन पहले भी उन्होंने उन पर हमला किया था । पीड़ित परिवार का कहना है कि मारपीट करने वाले आरोपी उन्हीं के परिवार के सदस्य हैं उन्होंने उनकी ढाई एकड़ जमीन पर फर्जी कागज बनाकर कब्जा किया हुआ है जबकि असल कागज उनके पास है और जमीन की मुटेशन भी उनके नाम है । लेकिन आरोपी दबंग है और वह कब्जा नहीं छोड़ता। इसी बात को लेकर विवाद था और आरोपी पक्ष ने इसी बात को लेकर उन पर हमला बोल दिया। पीड़ित परिवार के मुताबिक इस झगड़े में कई लोग घायल हुए थे जिसकी शिकायत पुलिस को दी गई थी। लेकिन पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है। जबकि उनके साथ दो बार आरोपी पक्ष मारपीट कर चुका है और बार-बार जान से मारने की धमकियां दे रहा है। अब पीड़ित परिवार आरोपियों की बार बार धमकी, मारपीट के डर और पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट होकर गांव छोड़ने की बात कह रहा है । आइए सुनते हैं क्या कहना है पीड़ित परिवार का।

    वहीं जब इस मामले में पुलिस प्रवक्ता सुबह सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार के बयान पर थाना सूरजकुंड में मामला दर्ज कर जांच की जा रही है क्योंकि मामला जमीन विवाद का है इसलिए कार्रवाई करने में थोड़ा समय लग रहा है।

    लेकिन पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह जी जमीनी विवाद और कागजों की तो जांच आप कराने की बात कह रहे हैं। लेकिन झगडा तो हुआ है और पीड़ित पक्ष ने पुलिस के सामने इसके साक्ष्य भी पेश किए थे और पीड़ित परिवार घायल भी हुआ है इस पर आज तक पुलिस ने कार्रवाई क्यों नहीं की। यह सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर आरोपी अब तक खुलेआम क्यों घूम रहे हैं। अगर पुलिस आरोपियों पर सही समय पर सही कार्रवाई करती तो पीड़ित परिवार पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट होता और आरोपी बार-बार धमकियां न देते और पीड़ित परिवार गांव छोड़ने की बात ना करता। इसलिए अपने थाना सूरजकुण्ड पुलिस को कुम्भकर्णी नींद से जगाइये और एक परिवार को न्याय दिलाइये।

    फरीदाबाद से सौरभ वर्मा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.