Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोरोना के साथ अब लोग जीने का अपना तरीका बदल रहे हैं धीरे-धीरे डर खत्म हो रही है


    कोरोना  के साथ अब लोग जीने का अपना तरीका बदल  रहे हैं  धीरे-धीरे डर खत्म हो रही है



    अयोध्या।   कोरोना महामारी के चलने से देश में लगे लॉक डाउन को भी 2 महीने से ज्यादा समय बीत गया है पहले तो लोग कोरोना का नाम सुनकर बहुत भयभीत होते थे । टीवी पर दूसरे देशों की खबर देखकर डरते थे। किंतु 2 महीने से ज्यादा समय तक लॉक डाउन में रहने के बाद अब करो ना के साथ जीने का अपना तरीका बदल ले रहे हैं और जिनकी रिपोर्ट   पॉजिटिव भी आई है उसमें से कई लोग ग्रामीण अंचल में आम के पेड़ के डालो पर मचाना बनाकर रह रहे हैं और अपने आम के फसल की रखवाली भी कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ कुछ किसान जो कोरोना से संक्रमित है खेत में अपने मचान बनाकर खटिया बिछा कर अपने को कोरंटीन करके वहीं पर खेती मे किसानी भी कर रहे हैं। 



    ऐसे में अब धीरे-धीरे कोरोना बीमारी के ऊपर आत्मबल का कब्जा होता जा रहा है। हां इतना जरूर है कि लोग एक दूसरे से दूरी रख रहे हैं।  मास्क का प्रयोग कर रहे हैं और हाथ को साबुन से धो रहे हैं। जिससे आम लोग कोरोना बीमारी पर अपनी विजय हासिल कर लेंगे। हां इतना जरूर है बाहर से आने वाले लोगों के कारण कोरोना  के संक्रमण बढ़ रहे हैं उसको लेकर लोग जरूर चिंतित नजर आ रहे हैं महामारी में दो युवकों ने खुद को खेत में किया क्वॉरेंटाइन। खुले आसमान के नीचे खुद को किया क्वॉरेंटाइन। मक्के के खेत के बगल दोनों युवकों की बिछी खटिया।मच्छरदानी लगा कर खुद को किया क्वॉरेंटाइन। दिन में धूप लगने पर बगल के बाग में होते हैं क्वॉरेंटाइन।अमानीगंज ब्लाक के इछोई गांव का मामला। दिल्ली से आए हैं दोनों युवक। इसी तरह से दो युवक आम की बाग में खटिया का मचाना बनाकर आम की बाग में रह रहे हैं और अपने को अलग करके सुरक्षित रखे हुए हैं।

    देव बक्स वर्मा
    अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.