Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    थाली, ताली बजाकर जनप्रतिनिधियों को ढूंढते छात्र नेता


    थाली, ताली बजाकर जनप्रतिनिधियों को ढूंढते छात्र नेता


    बलिया।  बलिया में कोरोनावायरस जैसी महामारी को लेकर हुए लाक डाउन के बाद से जनप्रतिनिधियों का जनता के बीच से गायब होकर फेस बुक और वाट्स अप के जरिए बजाय इस महामारी में जनता के बीच जाकर या रास्ते में फंसे मजदूरों- मजबूरो का हाल मालूम करते और  उन्हें राहत पहुंचाने का कार्य करतेे ,  बजाए इसके  अपने वक्तव्य  में अपनी ही  जनता के बीच आग उगलने और लापता रहने से नाराज़ छात्र नेता ओ ने इन्हें ताली ,थाली बजाकर जनप्रतिनिधियों ढुढते नज़र आए इन छात्र नेता ओ का आक्रोश साफ दिखाई दे रहा था ।

    मालूम हो कि वैश्विक महामारी कोरोनावायरस को लेकर हुए लाक डाउन, और घर पहुंचने की चाह ने ना जाने कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है । लाक डाउन के दौरान किसी बिमार को गैर जनपद के लिए प्रशासनिक अनुमति के लिए जद्दोजहद ,तो कहीं दूर गैर जनपद में किसी अपनों के फंसे होने की परेशानियो का सामना या फिर किसी को आर्थिक तंगी के कारण रोज मर्रा कि ज़रूरतों का सामना करने जैसी समस्याओं के समय अपने नेता अपने जन प्रतिनिधियों कि कमी ने दर्द को और बढ़ा दिया ।

    बलिया के बीचों-बीच स्तिथ शहीद पार्क के अन्दर थाली ताली  बजाते हुए इन छात्र नेता ओ ने अपने और अपने समर्थकों के साथ चक्कर लगाते और झुक झुक कर अपने जन प्रतिनिधियों को ढूंढते नजर आए ।

    आपको बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले कुछ नौजवानों ने अपने द्वारा अपने चुन गये  सांसद, विधायक के लापता होने का पोस्टर चिपका कर इनके ला पता होने की खबर काफी चर्चा में बनी है और अब फिर ताली थाली बजाकर कर  अपने नेताओं को झांक झांक कर ढुंढना । काफी चर्चा में है ।

    इन छात्र नेता ओ का कहना है कि आपदा और दुख की  घड़ी में हमेशा इन्सान अपने और अपने नेताओं को तलाशता है , कि चलो हमारे हमारे दुख के इस समय में हमारा नेता हमें संभाल लेगा । पर बलिया के जन प्रतिनिधियों ने तो अपने को ऐयर कन्डीशन रहते हुए जनता कि समस्याओं से जैसे अपने को दूर कर लिया इसी लिए इन छात्र नेता ओ कि तलाश जारी है।

    आसिफ जैदी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.