Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अंबाला में एक युवक ने मास्क और फेशशील्ड का कम्बीनेशन किया तैयार


    अंबाला में एक युवक ने मास्क और फेशशील्ड का कम्बीनेशन किया तैयार


    हरियाणा । मास्क को लेकर सरकार की सख्ती ने और कोरोनो को लेकर आई जागरूकता लोगों को आत्मनिर्भर बना दिया है। अंबाला में एक युवक ने मास्क और फेशशील्ड का कम्बीनेशन तैयार किया है। इस प्रयोग का ऊपर का हिस्सा प्लास्टिक शील्ड और निचे का हिस्सा कपड़े का है। जिसके चलते यह कम्बीनेशन फेस शील्ड और मास्क दोनों का काम करता है। इससे पहले यह युवक सेनिटाईजर करने वाली कलाई घड़ी भी बना चूका है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है प्रयोग अच्छा है इस तरह से लोग काम करते रहे तो कोरोना को रोका जा सकता है। 

    कोरोना से बचने के लिए बचाव में ही बचाव है जिसको लेकर लगातार सरकार द्वारा लोगो को जागरूक किया जा रहा है। इसीलिए अब सरकार ने मास्क न पहनने वालो पर सख्ती करते हुए जुर्माने का भी प्रावधान कर दिया है। जिसके चलते अब लोग आत्मनिर्भर होते दिख रहे हैं। अंबाला में रह रहे पंजाब के संगरूर के रहने वाले मानिक गर्ग ने कोरोना से बचने के लिए मास्क और फेशशील्ड का कम्बीनेशन तैयार किया है। इस प्रयोग का ऊपर का हिस्सा प्लास्टिक शील्ड और निचे का हिस्सा कपड़े का है जिसके चलते यह कम्बीनेशन फेस शील्ड और मास्क दोनों का काम करता है। युवक ने इसे इसलिए बनाया है क्यूंकि फेश शील्ड पहनने से साँस लेने में कुछ दिक्कत पेश आती है लेकिन अगर फेश शील्ड का निचे का हिस्सा कपड़े का बना होगा तो साँस लेने में तकलीफ नही होगी। 

    मानिक इससे पहले कलाई घड़ी भी तैयार कर चूका है जिसमे सेनिटाईजर रखा गया है और उसे प्रेस करने से उसमे से सेनिटाईजर निकलता है जिससे हाथ आसानी से सेनिटाईज हो जाते हैं। 

    मानिक द्वारा किये गये प्रयोग को स्वास्थ्य विभाग ने काफी सराहा है। स्वास्थ्य विभाग भी फेश शील्ड और मास्क को इकट्ठा पहन इस तरह के प्रयोग का इस्तेमाल कर रहा है। लेकिन मानिक ने इससे थोडा अलग करते हुए अलग प्रयोग किया है। अंबाला के सिविल सर्जन डाक्टर कुलदीप सिंह ने कहा अच्छा प्रयोग है यदि लोग इसी तरीके से काम करते रहे तो कोरोना को रोका जा सकता है। इस दौरान डाक्टर कुलदीप सिंह ने मास्क न पहनने वालो के चालान की भी जानकारी दी।

    रिपोर्टर राकेश भारतीय

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.