Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    फीस मांग रहे स्कूल, योगी को खून से लिखा खत


    फीस मांग रहे स्कूल, योगी को खून से लिखा खत

    कानपुर। कोरोना महामारी में जारी लॉकडाउन में सरकारी नौकरी करने वालों को छोड़ लगभग सभी की अर्थव्यस्था चरमरा गई है। ऐसे में अब स्कूल वालों ने फीस भी मांगना शुरू कर दिया है, जिससे अभिभावक परेशान हैं। इसी को लेकर कानपुर के कुछ अभिभावकों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खून से पत्र लिखा गया है और मांग की है कि आदेश जारी किया जाए कि स्कूल अगले तीन महीने तक फीस न लें। 



    वैश्विक महामारी बना कोरोना के संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए पूरे देश में 24 मार्च से लॉकडाउन जारी है। इन दिनों सरकारी व प्राइवेट स्कूल बंद हैं। इसके बावजूद अब स्कूल संचालकों ने अभिभावकों दबाव बनाना शुरू कर दिया है कि इन दिनों ऑनलाइन पढ़ाई कराई गई है, इस लिए बच्चों की फीस जमा की जाए। इसको लेकर अभिभावक काफी परेशान हैं कि काम-धाम बंद है और तीन माह की फीस कैसे एक साथ जमा की जाए। 

    विनय वर्मा ने लिखा पत्र..... 
    कानपुर उद्योग मंडल के टॉस्क फोर्स प्रभारी विनय वर्मा ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खून से पत्र लिखा है और मांग की है कि सरकार आदेश जारी करे कि स्कूल संचालक तीन माह की बच्चों की फीस माफ करें। वर्मा का कहना है कि इससे अभिभावकों को बड़ी राहत मिल सकेगी। उन्होंने पत्र में लिखा कि जिनकी सरकारी नौकरी नहीं है, चाहे वह मध्यम वर्ग का हो या निम्न वर्ग का, सभी मुश्किल से अपने परिवार का इन दिनों भरण पोषण कर पा रहे हैं। ऐसे में अगर सरकार आदेश जारी करती है और बच्चों की तीन माह की फीस नहीं लगती है तो आम लोगों को काफी राहत मिलेगी।

    कृष्ण गोपाल गुप्ता
    प्रबंध संपादक

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.