Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    राव मुशर्रफ को दोबारा किया दिल्ली सरकार ने सम्मानित


    राव मुशर्रफ को दोबारा किया दिल्ली सरकार ने सम्मानित


    राव मुशर्रफ के हौसले ने किया देवबंद का नाम रोशन


    देवबंद। 6जनवरी को जमात के लिए निकले राव मुशर्रफ अली को करोना का  यौद्धा कहा जा रहा है राव मुशर्रफ अली द्वारा कोरोना से जंग में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने पर दिल्ली सरकार ने उन्हें दो बार  गौरव पत्र देकर सम्मानिनत किया है। राव मुशर्रफ के इस सम्मान से पूरे देवबंद का नाम रोशन हुआ है।



    देवबंद तहसील के छोटे से गांव बनहेड़ा खास निवासी राव मुशर्रफ अली को दिल्ली स्थित तबलीगी जमात के मरकज से उन 1600 जमातियों के साथ बीते 31 मार्च को क्वारंटीन किया गया था, जिनके सिर पर देश में कोरोना फैलाने का इलजाम लगा था। मुशर्रफ अली ने करोना की जंग जीतने के बाद दो बार पालाजम दान किया  


    मुशर्रफ अली की भी पहली रिपोर्ट कोरोना पाॅजीटिव आई थी। लेकिन मुशर्रफ ने अपने तंदरुस्त शरीर के सहारे कोरोना को बहोत जल्दी मात दे दी और वह पूरी तरह स्वस्थ हो गए। दो बार नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद मुशर्रफ ने यह तय किया कि अब वह कोरोना से जंग में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेंगे। इसी मिशन पर चलते हुए मुशर्रफ कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए दो बार अपना प्लाजमा दान कर चुके हैं। 

    जिसके लिए दिल्ली सरकार ने भी उन्हें दो बार गौरव पत्र देकर सम्मानित किया है। मुशर्रफ के इस सम्मान से पूरे देवबंद का मान बढा है। राव मुशर्रफ ने फोन पर बताया कि उनके शरीर में अब भी हीमोग्लोबीन की मात्रा 15 है। जो कि सामान्य तौर पर 9 से 12 के बीच होती है। बताया कि कोरोना से जंग में अभी वह और दो बार प्लाजमा दान करने के इच्छुक हैं। उन्होंने अपनी इच्छा चिकित्सकों के सामने भी रख दी है। यदि उन्हें दौबारा प्लाजमा दान करने का मौका मिलता है तो वह इसे अपना सौभाग्य समझेंगे। मुशर्रफ अली के इस हौसले की हर कोई प्रशंसा कर रहा है। 

    शिबली इक़बाल 
    आई एन ए न्यू  

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.