Header Ads

  • INA BREAKING NEWS


    सुपर फूड्स 

    कोरोना महामारी के चलते हम सभी लोग अपने अपने घरों में बंद हैं। घर से बाहर निकलना लक्ष्मण रेखा पार करने के समान है। हमें संयम एवं धैर्य के साथ इसका सामना करना है। लॉक डाउन का प्रभाव रोजमर्रा की चीजों पर सबसे अधिक देखने को मिल रहा है।

     खाद्य सामग्री की आपूर्ति करना प्रशासन के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। परेशानी तब ज्यादा महसूस होती है जब हम स्वस्थ रहने के लिए जिन जरूरी खाद्य पदार्थों का दैनिक रूप से प्रयोग करते थे, वो अब आसानी से नहीं प्राप्त कर पाते हैं। 



    यदि आप डायबिटीज से पीड़ित हैं तो निश्चित रूप से डॉक्टर के द्वारा बताए गए हाई प्रोटीन एवं फाइबर डाइट लेते होंगे। अगर वजन कम करना चाह रहे हैं तो डाइटिशियन ने कोई डाइट प्लान बनाया होगा जिसमें विशेष प्रकार के फल, अनाज, और कुछ विशेष पेय पदार्थ दिए गए होंगे।  

    आम समय में यह सामान आसानी से मिल जाता है। परंतु अभी परिस्थिति अलग है और साधन सीमित हैं। अतः उन्हीं सीमित साधनों का प्रयोग करके अपने आपको फिट रखना है। आप जानकर खुश होंगे की हर भारतीय के रसोई घर में हमेशा उन सुपर फूड्स की व्यवस्था रहती है, जिनको खाकर आप अपनी शारीरिक अवस्था के अनुसार स्वस्थ रह सकते हैं। 

    मैंने भी लॉक डाउन के समय में कुछ सुपर फूड्स का प्रयोग करके स्वादिस्ट एवं स्वास्थ्यवर्धक व्यंजनों को रसोई में बनाया है। आप भी इनको अपनी रसोई में आसानी से बना सकती हैं। उदाहरण के लिए गेंहूँ में कार्बोहाईड्रेट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिससे ऊर्जा का स्तर शरीर में बना रहता है और आप थकावट महसूस नहीं करते हैं। लॉक डाउन के दौरान आप गेंहूँ से कुछ नए स्वास्थ्यवर्धक व्यंजनों जैसे दलिया का उपमा, आटे का डोसा, मिक्स वेज पराठा, चीला, या फरा आदि बना सकते हैं। 

    दालें प्रोटीन का एक अच्छा श्रोत हैं। अतः आप दाल का सूप, दाल का चीला, मिक्स वेज दाल, दाल ढोकली, अंकुरित दालों का सलाद या चाट बना सकते हैं। चावल का नाम सुनते ही डायबिटिक और मोटापे से ग्रसित लोग डर जाते हैं। चावल को हमेशा स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है। 

    अगर आप चावल को इडली या खिचड़ी के रूप मैं प्रयोग करें तो यह स्वास्थ्य वर्धक होगा और कंप्लीट प्रोटीन और आवश्यक सभी पौष्टिक तत्व आपके शरीर में पहुचेंगे। आलू भी पौष्टिक तत्वों से भरपूर है, लेकिन इसे उबाल कर या भून कर ही खाना चाहिए। तला हुआ आलू कभी भी नहीं खाना चाहिए। टमाटर और नींबू आसानी से उपलब्ध हैं। आप इनको अपने भोजन में सूप, सलाद आदि के रूप में प्रतिदिन सेवन कर आवश्यक विटामिन सी ले सकते हैं। इस समय विटामिन सी का प्रचुर मात्रा में प्रयोग करें क्योकि यह प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। 

     देसी घी प्रायः सभी घरों में पाया जाता है। आप प्रतिदिन 10 से 15 ग्राम घी का सेवन अवश्य करें। इससे आपको विटामिन ए, डी, तथा ई भरपूर मात्रा में मिलता है जो कि आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत रखता है।  इसके साथ ही घी हर व्यंजन के स्वाद को दुगुना कर देता है। मेरा दावा है उपरोक्त खाद्य पदार्थ आपको ओट्स,  डाइट बिस्किट, कॉर्नफ्लेक्स, तथा अन्य डाइट फूड्स की तुलना में अधिक लाभ देंगे चाहे आप वजन कम करना चाहते हैं या फिर स्वस्थ रहना चाहते हैं। हमको अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए किसी भी इंपोर्टेड और महंगी चीजों की आवश्यकता नहीं है। सीमित साधनों के बीच हमारे पास उपरोक्त सुपरफूड हैं जिनसे हम अपने स्वास्थ्य का ध्यान रख सकते हैं। 

    निशि शर्मा, 
    न्यूट्रिशियन, 
    आई आई टी कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.