Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या जनपद में कोरोना के 35 नए मामले, संक्रमितों की संख्या 94 हुई


    अयोध्या जनपद में कोरोना के 35 नए मामले, संक्रमितों की संख्या 94 हुई


    अयोध्या।  गैर प्रदेश से आने वाले  लोगों की संख्या जिस तरह से  बढ़ती जा रही है  उसी तरह कोरोना भी अपना पांव पसार रहा है और अयोध्या जनपद में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है।  जो ताजा जांच रिपोर्ट आयी उसमें 35 नये कोरोना पॉजटिव पाये गये। जिसको सुनकर  लोगों में भय व्याप्त हो गया इस तरह अयोध्या जनपद में कोरोना संक्रमितों की तादात 94 हो गयी है जिसमें 90 एक्टिव  प्रशासन द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन में पूराबाजार के पाठकपुर में एक, पूराबाजार के जयनगरा में पांच, भदरसा  में दो, मया बाजार के रईया रेवारी में एक, मिल्कीपुर के गडेरिया का पुरवा में एक, पटखौली में एक, भागीपुर में एक, नगर निगम क्षेत्र के बरेहटा में एक, मया बजार के विस्वालपुर में एक, मया बाजार में एक, अमानीगंज के सुमेरपुर में एक, अमानीगंज के रामनगर में तीन, रूदौली के जखौली में तीन, मवई के उमापुर में एक, नगर निगम के रायगंज कजियाना में एक, मया बाजार के बाकरगंज में एक, मसौधा के माली का पुरवा में एक, हैरिग्टनगंज के शुक्ला का पुरवा में एक, सोहावल के बरियारपुर में एक, मिल्कीपुर के सिधौना में दो, मया बाजार के उनियार बाजार में एक, मया बजार के गुडियाना व दलपतपुर में चार कुल 35 कोरोना पॉजटिव पाये गये हैं।


    कोरोना पॉजटिव मरीजों को एल-1, एल-2 व कोविड केयर चिकित्सालय में रखे गये हैं। एल-1 चिकित्सालय सीएससी मसौधा में 30, एल-1 समक्षक कोविड केयर चिकित्सालय झुनझुनवाला कालेज में 29, एल-2 चिकित्सालय दर्शननगर मेडिकल कालेज में 12 कोरोना पॉजटिव मरीजों को भर्ती किया गया है। एल-1 समकक्ष कोविड केयर चिकित्सालय कुमारगंज में 200 बेड की सुविधा है जहां अभी तक किसी भी मरीज को नहीं रखा गया है।

    दूसरी ओर एल-1 चिकित्सालय, सीएचसी मसौधा में दो, एल-1 समकक्ष में 51 व मेडिकल कालेज में 188 बेड खाली हैं। कोरोना पॉजटिव ग्रसित पुष्टि हो जाने के बाद सभी मरीजों को आइसोलेशन में संघन चिकित्सा जांच में रखा गया है। इसके अलावा जिला प्रशासन ने चिन्हित गावों को बफर जोन घोषित करते हुए सीज कर दिया है और सभी के आने जाने पर रोक लगा दी गयी है। संक्रमित गावों का सैनेटाइेजेशन कराया जा रहा है वहीं कोरोना पॉजटिव परिवार की सैंपलिंग कर यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कहीं परिवार का कोई अन्य संदस्य कोरोना संक्रमित तो नहीं है। ऐसे में बाहर से आने वाले लोगों को विशेष निगरानी में रखने की जरूरत है ताकि कोरोना बीमारी और आगे ना बढ़ सके और पूरी तरह से नियंत्रित किया जा सकता है।

              देव बक्स वर्मा 
             आई एन ए न्यूज।
             अयोध्या फैजाबाद

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.