Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    नहीं थम रहा मजदूरों के पलायन करने का सिलसिला, इधर से उधर भागने को मजबूर है मजदूर तबका



    नहीं थम रहा मजदूरों के पलायन करने का सिलसिला, इधर से उधर भागने को मजबूर है मजदूर तबका


    (लॉक डाउन में देश भले थम गया हो लेकिन मजदूरों के पैर नही थम रहे है। किसी को हैदराबाद से चलकर  गोरखपुर पहुचना है तो किसी को लखनऊ से छपरा । इस सफर में कई ऐसे बदनसीब है जो करीब 15 दिन से पैदल ही घर के लिए निकले है ,रास्ते में कुछ मिल गया तो खा लिया या छांव मिली तो आरामकर लिया। इसके बावजूद सभी की आंखों में सिर्फ एक ही ख्वाहिश है जल्द से जल्द घर पहुँचने की । ऐसे ही कई बदनसीब जौनपुर में मिले)



    जौनपुर। जौनपुर - प्रयागराज मार्ग पर जौनपुर से 20 किलोमीटर पहले साइकिल से जा रहे ये लोग लखनऊ के ऊंचाहार एनटीपीसी में काम करने वाले  मजदूर है। ये लॉक डाउन में दाने - दाने के मोहताज हुए तो घर की याद आ गई। घर जाने के लिए ठान तो लिया लेकिन ये नही तय कर पाए की कैसे पहुँचे कुछ न सुझा तो 26 अप्रैल को पैदल ही घर को निकल दिए । प्रतापगढ़ जिले  के लालगंज पहुँचे तो थक कर बैठ गए । किसी ने पूछा तो बताया घर तो जाना चाह रहे है लेकिन पैदल चलने की हिम्मत नही हो रही है जानकारी होते ही गांव के कई लोग मदद को सामने आ गए । उन्होंने अपने घरों से साइकिल लाकर इन सभी को दे दिया जिसके बाद साइकिल की कैरियर में अपना सामान बांध के मजदूरों का ये जत्था छपरा अपने घर के लिए निकल दिया है । 

    अब दूसरी तस्वीर देखिए सड़क के किनारे खेत में पेड़ के नीचे आराम कर रहे ये लोग हैदराबाद से गोरखपुर के लिए निकले है। इन लोगों ने 13 दिन पहले हैदराबाद से यात्रा शुरू की थी और अभी जौनपुर पहुँचे है । इन्हें अभी लगभग 200 किलोमीटर जाना है। इन लोगों को अगर किसी गाड़ी ने कही लिफ्ट दे दिया तो ठीक वर्ना ये लोग पैदल ही चल रहे है। इन लोगों को भी जौनपुर में गांव वालों ने सड़क के किनारे आराम करता देख कर इनको भोजन कराया। 

    मोहम्मद सोहराब
    आई एन ए न्यूज़ जौनपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.