Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीएम सिटी गोरखपुर में बेरोकटोक घुस रहे हैं हजारों बाहरी लोग, 10 लोग हुए पॉजिटिव



    सीएम सिटी गोरखपुर में बेरोकटोक घुस रहे हैं हजारों बाहरी लोग, 10 लोग हुए पॉजिटिव

    गोरखपुर। सीएम सिटी गोरखपुर के नौसढ़ बॉर्डर जहां से दो राजमार्गों का विभाजन होता है। एक NH-29 जो कि गोरखपुर को वाराणसी से जोड़ता है तथा दूसरा NH-28 गोरखपुर-लखनऊ जो गोरखपुर को लखनऊ से जोड़ता है। देखा जाय तो यहां पर बैरिकेटिंग के साथ पुलिस का सख्त पहरा होना चाहिए जिससे कोई भी बिना जांच के गोरखपुर शहर की सीमा में प्रवेश न कर सके। परन्तु पुलिस प्रशासन की लापरवाही का आलम यह है कि सैकड़ों की संख्या में लोग बिना रोक टोक और स्क्रीनिंग के ही शहर में प्रवेश कर जा रहे हैं और अपने गांवों की ओर भी बढ़ जा रहे हैं। जिससे आसपास के गांवों में भी कोरोना संक्रमण का खतरा तेजी से बढ़ रहा है।




    गौरतलब है कि गुजरात, राजस्थान, दिल्ली, मुंबई से सैकड़ों की संख्या में मजदूर पैदल, मोटरसाइकिल और ट्रकों में भरकर सीएम सिटी गोरखपुर की सीमा में प्रवेश कर रहे हैं और उनकी किसी भी प्रकार से स्क्रीनिंग नहीं की जा रही है और ना ही उन्हें किसी के द्वारा रोका ही जा रहा है और ना तो उनकी जांच की जा रही है। यह सैकड़ों की संख्या में लोग अलग-अलग जगहों से गोरखपुर की सीमा में बेरोकटोक प्रवेश कर रहे हैं और अपने अपने गांव की तरफ बिना किसी जांच के आगे बढ़ रहे हैं। 


    नौसढ़ स्थित गोरखपुर शहर का जो बॉर्डर है यह वहां की तस्वीरें हैं जिसमें आप साफ़ देख सकते हैं कि यह सैकड़ों की संख्या में लोग पिट्ठू बैग लगाए या ट्रक में भरे बिना सोशल डिस्टेंसिंग और बिना किसी जांच के और बिना किसी सावधानी बरतें भीड़ में झुंड बनाकर गोरखपुर की सीमा में प्रवेश करते जा रहे हैं और इन्हें पुलिस प्रशासन द्वारा कहीं भी रोका नहीं जा रहा है और ना तो इनकी जांच की कोई व्यवस्था की जा रही है।

    बता दें कि सीएम सिटी गोरखपुर जो कि अभी कुछ दिन पहले तक ग्रीन जोन में था, अभी तक यहां 6 कोरोना पॉजिटिव केस थे लेकिन बाहर से लगातार आ रहे मजदूरों में से आज बृहस्पतिवार को 4 लोग और कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जिसके बाद अब गोरखपुर में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 10 हो गयी है, वह भी सिर्फ इन बाहर से बेरोकटोक आ रहे लोगों की वजह से ही। यदि लोगों के आने का आलम यही रहा तो गोरखपुर जल्द ही रेड जोन में होगा और सीएम सिटी के लोगों की जान भी खतरे में होगी।

    संजय राजपूत
    रीजनल एडिटर गोरखपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.