Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ग्रैमी विजेता रिकी बने यूनेस्को के काइंडनेस एम्बेसडर

    नई दिल्ली, 25 जुलाई- यूनेस्को महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन फॉर पीस एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट (एमजीआईईपी) ने ग्रैमी पुरस्कार विजेता रिकी केज को ग्लोबल एम्बेसडर फॉर काइंडनेस नामित किया है। अगले माहीने दिल्ली में यूनिस्को एमजीआईईपी की वर्ल्ड यूथ कॉन्फ्रेंस का आयोजन होने जा रहा है। काइंडनेस एम्बेसडर होने के नाते रिकी यहां ग्लोबली कैंपेन का संदेश देते नजर आएंगे। 

    geremi-vijeta-riki-bane-yunesko-ke-kaednes-ambesdar
    ग्रैमी विजेता रिकी बने यूनेस्को के काइंडनेस एम्बेसडर

    काइंडनेस मेटर्स कॉन्सर्ट में रिकी अपनी वैश्विक संगीतकारों की टीम के साथ काइंडनेस मेटर्स एंथम को लाइव रिलीज करेंगे। वर्ल्ड यूथ कॉन्फ्रेंस दयालुता को लेकर महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहा है। रिकी केज ने कहा, "ग्लोबल एम्बेसडर फॉर काइंडनेस होने के नाते मैं उम्मीद कर रहा हूं कि वैश्विक दयालुता के कृत्यों को उजागर करूं। खास तौर पर युवाओं में"

    सस्टेनेबल डेवलपमेंट के उद्देश्यों को लेकर होने वाला कैंपेन काइंडनेस मेटर्स वैश्विक रूप से 2 अक्टूबर 2018 को लॉन्च हुआ था। शांति और दयालुता की संस्कृति को बढ़ावा देना इसका उद्देश्य है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.