Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पत्नी से अवैध संबंध के चलते की थी सचिन की हत्या


    हरदोई:- शाहाबाद कोतवाली क्षेत्र के नेवादा में छह मई की रात हुए सचिन हत्याकांड का पुलिस ने गुरुवार को खुलासा कर दिया। युवक की हत्या अवैध संबंधों के चलते की गई थी। 

    पुलिस ने बताया कि युवक के गांव की ही एक युवती से अवैध संबंध थे और वह युवती से शादी के बाद भी मिलने के लिए जाता था। इसी बात से नाराज होकर युवती के पति ने सचिन को फोन कर बुलाया था और उसी के बाद एक साथी के साथ मिलकर चाकू से गोदकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारोपित को आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
    Patni-se-avaidh-sambandh-ke-chalte-ki-thi-sachin-ki-hatya

    एसपी आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि नेवादा निवासी सचिन पुत्र फूलचंद्र के पास सोमवार की रात एक फोन आया था। उसी के बाद सचिन घर से बाइक लेकर चला गया। मंगलवार की सुबह उसका शव गांव के बाहर पिपरिया पुल के पास झाड़ियों में पड़ा मिला और उसकी बाइक भी पुल से कुछ दूरी पर मिली थी। हत्याकांड के खुलासे के लिए सर्विलांस टीम को लगाया गया था। सर्विलांस टीम ने मोबाइल नंबर को ट्रेस करते हुए फर्रूखाबाद के थाना राजेपुर के बहादुरपुर निवासी देवेंद्र सिंह पुत्र रविद्र सिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ करना शुरू किया। जिसमें देवेंद्र ने बताया कि उसकी पत्नी नेवादा की रहने वाली थी और सचिन के उससे अवैध संबंध थे। जिससे गुस्से में उसने सचिन को फोन कर पिपरिया पुल पर मिलने को बुलाया। इसके बाद कुलदीप पुत्र पप्पू के साथ मिलकर चाकुओं से गोदकर शव को झाड़ियों में फेक दिया।चार वर्ष पूर्व हुई थी देवेंद्र की शादी : देवेंद्र ने बताया कि चार वर्ष पूर्व उसकी नेवादा निवासी युवती के साथ शादी हुई थी। जो सचिन की रिश्ते में भतीजी थी, लेकिन उसका उसकी पत्नी के साथ अवैध संबंध था। डेढ़ वर्ष पूर्व पत्नी के मोबाइल पर सचिन से हुई बातचीत देख ली थी। 

    जिसके बाद वह सचिन को मारने की योजना बना रहा था। छह मई को उसने पूरी योजना बनाकर घटना को अंजाम दिया। दिल में भरा था गुस्सा तो किया वार पर वार : देवेंद्र ने बताया कि पेट पर लगातार दो-तीन वार करने के बाद ही सचिन की मौत हो गई थी, लेकिन दिल में भरे गुस्से के कारण उसने सचिन पर ताबड़तोड़ 19 वार कर दिए और आखिर में आंख और गुप्तांग पर भी वार किए थे।
    विजयारती 
    INA न्यूज़ 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.