Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    निजी स्कूल वसूल रहे मनमानी फीस,अभिभावकों में रोष


    बांगरमऊ उन्नाव- क्षेत्र के तमाम स्कूलों व कालेजो द्वारा सरकारी मनको को ताक पर रखकर अभिभावकों की जेब ढीली की जा रही है।जिससे कई तरह के शुल्कों को जमा करते समय उन्हें पसीना छूट रहा है।जिससे क्षेत्रीय लोगो मे आक्रोस ब्याप्त होता देखा जा रहा है।
         
    Niji-school-vasool-rahe-manmaani-fees-abhibhavko-me-roash
    निजी स्कूल वसूल रहे मनमानी फीस,अभिभावकों में  रोष 

    गौरतलब हो इस समय क्षेत्र में मौजूद भारी संख्या में निजी विद्यालय व कॉलेजों में प्रवेश के समय अभिभावकों से रखरखाव शुल्क,प्रवेश शुल्क, प्रयोगात्मक परीक्षा शुल्क,फार्म शुल्क,पुस्तकालय शुल्क आदि सहित कई तरह के शुल्क वसूल किये जा रहे है।

    जिससे अभिभावकगण खासा चिंतित दिखाई दे रहे है। जिससे  बच्चों को स्कूलों में दाखिला दिलाते समय उनकीअच्छी खासी जेब ढीली हो रही हैं। भारी भरकम शुल्क के बावजूद भी अभिभावकों को किताबें खरीदने में भी पसीने छूट रहे हैं।विनीत शुक्ला, रामजीवन,सूबेदार,संदीप कुमार,राजेश,पिंकू शुक्ला, राजेन्द्र कुमार आज सहित दर्जनों लोगों द्वारा कहा गया है कि बच्चों को स्कूल में दाखिला के बाद एक निश्चित दुकान पर ही विद्यालय की किताबे मिलती हैं।जिससे दुकानदार से मोल भाव कर पाना टेढ़ी खीर साबित हो रहा है।दुकानदार किताबों के अलावा रजिस्टर व कॉपी तक अधिकतम खुदरा मूल्य पर दे रहे हैं।तथा पूरे वर्ष की फीस वसूल की जा रही है।जिससे उन लोगों को बच्चो को पढ़ाने के एवज में अच्छी खासी रकम खर्च करनी पड़ रही है। निजी विद्यालयों द्वारा लिए जा रहे कई तरह के शुल्कों से दबे अभिभावक खासा चिंतित नजर आ रहे हैं।

    जबकि प्रदेश सरकार द्वारा पहले ही फरमान जारी किया जा चुका है कि सभी विद्यालयों द्वारा प्रवेश शुल्क नहीं लिया जाएगा। तथा अवकाश के समय की फीस ना वसूली जाए। किंतु कई तरह के शासन के निर्देशों के बावजूद भी निजी विद्यालय अभिभावकों से पैसा वसूल करने में कोई गुरेज नहीं कर रहे हैं।जिससे क्षेत्रीय लोगों में आक्रोश व्याप्त होता देखा जा रहा है।निजी विद्यालयों द्वारा की जा रही मनमानी पर बिभागीय जिम्मेदारों द्वारा चुप्पी साध रखी गयी है।
     रिपोर्ट-मुकेश कुमार 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.