Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    महागठबंधन की रैली ने खींची बड़ी लकीर


    महागठबंधन द्वारा आहत आज की रैली ने इतनी बड़ी लकीर खींच दी है कि बाक़ी राजनीतिक दलों को इस रैली को फीका करना आसान नही बल्कि नामुमकिन कहा जा सकता है 
    Mahagathbandhan-ki-rally-ne-khichi-badi-lakeer
    महागठबंधन की रैली ने खींची बड़ी लकीर 
    मायावती अखिलेश और अजीत सिंह की इस रैली ने अब तक हुई सहारनपुर की तमाम रैलियों को बहुत पीछे छोड़ दिया है , लाखों की तादाद में जुटी भीड़ ने साबित किया कि गठबंधन उम्मीदवार चुनाव को मजबूती से लड़ रहे हैं,रैली में मायावती ने कहा कि बीजेपी का जाना तय है, बशर्ते वह एक बार फिर वोटिंग मशीनों में गड़बड़ी कर अपने हक में वोट ना डलवा ले बसपा प्रमुख ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मैं भी चौकीदार कैंपेन पर भी निशाना साधा है।

    आपको बता दें कि महागठबंधन उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में कई साझा रैलियां करेगा  इस बार के चुनाव में समाजवादी पार्टी 37, बहुजन समाज पार्टी 38 और रालोद 3 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं उत्तर प्रदेश में कुल 7 चरणों में मतदान होना है, पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को पश्चिमी यूपी की 8 सीटों पर वोट डाले जाएंगे । गठबंधन नेताओ ने जहां एक तरफ भाजपा को अपने निशाने पर रखा वहीं कांग्रेस पर भी हमलावर रहे और ये कहने से नही चुके की कांग्रेस और भाजपा इस लड़ाई में एक साथ हैं और अपने वजूद की लड़ाई लड़ रहे हैं ,भाजपा और मोदी की सत्ता को देश भर से हटाने के लिए जनता से समर्थन मांगा गया और गठबंधन की सरकार के लिए आह्वान किया गया।

    रैली में जहां मुसलमानों की जबरदस्त भागीदारी नज़र आई। वहीं दलितों और हिन्दू वोटर्स की भागीदारी भी रिकार्डतोड़ नज़र आई , इस भीड़ को वोटों में बदलने के लिए हर नेता ने अपना हर ज़ुबानी पैंतरा इस्तेमाल किया अब ये अलग बात है कि गठबंधन नेता अपने इस पैंतरे में कितना कामयाब होंगे,मगर ये बात तो तय नज़र आई कि भीड़ के मामले में इस रैली ने पी एम मोदी औऱ सी एम योगी की जनसभाओं को बहुत पीछे छोड़ दिया है,अब कांग्रेस नेताओं के लिए कल होने वाली राहुल गांधी की रैली को कामयाब करना और इससे बड़ी रैली कर दिखाना भी एक बडी चुनोती होगी और इस चुनोती को कांग्रेस नेता कैसे कर पाएंगे ये देखने वाली बात होगी।

    सैयद उवैस अली 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.