Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    होली मिलन समारोह हुआ सम्पन्न


    शाहाबाद- श्री रामलीला मेला समिति मोहल्ला पठकाना मैदान में स्वर्गीय मुरारी लाल त्रिपाठी की स्मृति में आयोजित होली मिलन समारोह में भाजपा जिलाध्यक्ष सौरभ मिश्रा उक्त उदगार व्यक्त कर रहे थे। 

    हर बर्ष की भाँति इस बर्ष भी पूर्व ब्लॉक प्रमुख रामनाथ त्रिपाठी द्वारा अपने पिता श्री की स्मृति में आयोजित होली मिलन समारोह में जिलाध्यक्ष ने कहा यह राजनैतिक मंच नहीं है इसलिए मैं यहाँ पर राजनीति की बात करने नहीं आया हूँ उन्होंने कहा होली लड़ाई बुराई बबाल मेटने का एक अच्छा बहाना है यदि हमारी किसी से कोई लड़ाई हो गई या बुराई हो गई या बबाल हो गया या किसी से कोई मनमुटाव हो तो उसको मिटाने के लिए होली सबसे अच्छा बहाना है।
    Holi-milan-samaroah-hua-sampan
    होली मिलन समारोह हुआ सम्पन्न
    उन्होंने कहा जब हिन्दू त्योहारों की बात हो, होली की बात हो,दीवाली की बात हो,राम, क्रष्ण शिव की  बात हो ,रामलीला की बात हो,तब हम सब एक साथ मिलकर हों, शाहाबाद के लोगों से यही अपेक्षा करता हूं जब हमारी संस्कृति से जुड़ा कोई प्रश्नचिन्ह हो तो सारे राजनैतिक भेदभाव भूलकर, सारे आपसी मतभेद भूलकर एक हो जाएं उन्होंने कहा मैं भारतीय जनता पार्टी का जिलाध्यक्ष जरूर हूँ लेकिन यदि आपके विचार हमसे नहीं मिल रहे हैं, मैं आपकी जरूरतें पूरी नहीं कर पा रहा हूँ मैं आपको संतुष्ट नहीं कर पा रहा हूँ तो आप जिस दल में चाहें जिस नेता के साथ रहना चाहें जरूर रहें लेकिन मैं जब अपनी संस्कृति अपने धर्म की बात आए तो आप एक साथ जरूर खड़े हों जाएं यह अपेक्षा मैं आपसे जरूर करता हूँ यही मेरी आकांक्षा है यही मेरा निवेदन है उन्होंने कहा मै किसी व्यक्ति की बात नहीं करता हूँ किसी दल की बात नहीं करता हूँ सम्पूर्ण सनातन धर्म की बात करता हूँ  प्रत्येक उस व्यक्ति की बात करता हूँ जो राम को मानता है कृष्ण को मानता है दुर्गा को मानता है शिव को मानता है हनुमान को मानता है बुद्ध को मानता है बाल्मीकि को मानता है मैं शाहाबाद के प्रत्येक निवासी की बात करता हूं आप किसी भी दल में रहे  किसी पार्टी को वोट दें  किसी नेता के अनुयाई बने,  मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता, मुझे फर्क पड़ता है  तो सिर्फ कि जब राम की बात हो, कृष्ण की बात हो, बुद्ध की बात हो, बाल्मीकि की बात हो,रामलीला की बात हो होली की बात हो दिवाली की बात हो और आप संगठित ना हो तो जरूर फर्क पड़ता है।

    जबकि राजनैतिक मंच न होते हुए भी क्षेत्रीय विधायक रजनी तिवारी ने अपने प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनका ऐसा व्यक्तित्व जो अपने लिए नहीं सोचता,अपने समाज के लिए नहीं सोचता सिर्फ एक वर्ग एक समाज के लिए नहीं सोचता जिनकी सोच पूरे राष्ट्र के लिए है जब देश की बात हो तो वह पीछे नहीं हटते। कार्यक्रम आयोजक पूर्व ब्लॉक प्रमुख रामनाथ त्रिपाठी ने कहा इस आयोजन के पीछे मेरी केवल एक सोच थी कि इस कार्यक्रम में हर छोटा बड़ा हर दल से जुड़ा व्यक्ति एक साथ मिलजुलकर गले मिले और सारे गिले शिकवे मिटाकर एक हो जाए, किसी के मन में कोई मनमुटाव न रह जाए और अपनी इस सोच के साथ मैं इस आयोजन के जरिए यदि मैं एक भी व्यक्ति के ह्रदय को आल्हादित करने में सफल रहता हूँ,एक भी मामले में मनमुटाव दूर करने में सफल रहता हूँ तो मैं मानता हूँ कि मेरा यह होली मिलन समारोह सफल रहा। इनके अलावा श्री रामलीला मेला समिति के मीडिया प्रभारी ओमदेव दीक्षित, बरिष्ठ अधिवक्ता रामसनेही मिश्रा, रामचन्द्र राजपूत, मास्टर वेदराम राजपूत, पंकज त्रिपाठी, लक्ष्मी कान्त मिश्रा,हरिनाथ त्रिपाठी, रामदास गुप्ता,गोपाल त्रिपाठी, गोपू त्रिपाठी आदि ने अपने विचार व्यक्त कर होली के महात्म्य का बखान किया।

    इस अवसर पर ,सभासद लक्ष्मी कांत त्रिपाठी ,संजय तिवारी ,एडवोकेट रामराज सिंह, रामबाबू शुक्ल पाली कमलेश रस्तोगी, अनिल शुक्ला, सुभाष रस्तोगी ,प्रमोद रस्तोगी , शैलेंद्र मिश्रा,मोनू मिश्रा,मधुप मिश्रा, सुधीर मिश्रा, बिंदेश मिश्र ,शशि मिश्रा,प्रभु दयाल ,राम सागर राठौर फैंसी, सतेंद्र राजपूत ,नीरज श्रीवास्तव, गोविंद पाठक, सर्वेन्द्र अग्निहोत्री ,रामप्रकाश राठौर कमलेश मिश्र, मोतीलाल गुप्ता, श्यामाचरण शुक्ला, जयनाथ तिवारी, दीपक मिश्रा,रामअवतार राजपूत, दृष्टि मिश्र, विपुल अवस्थी, अरविंद प्रजापति,मदन राठौर, नुरुल आमीन, रजनीश शर्मा, अनिल मिश्रा, विजय अग्निहोत्री, राजेंद्र राजपूत मिथिलेश मिश्र ,गोपाल रस्तोगी आदि सैकड़ों लोग मेलमिलाप का आनन्द लिए।
    रिपोर्ट-अतुल मिश्रा 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.