Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    स्वामी हंसदेवाचार्य का सड़क हादसे में निधन, मुख्यमंत्री ने जताया दु:ख


    लखनऊ, 22 फरवरी- राममंदिर आंदोलन से जुड़े जगतगुरु रामानंदाचार्य स्वामी हंसदेवाचार्य का शुक्रवार को सड़क हादसे में निधन हो गया। प्रयागराज से हरिद्वार जाते समय ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी। लखनऊ के संजय गांधी परास्नातक चिकित्सा संस्थान (एसजीपीजीआई) में उन्हें भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उनका निधन हो गया। वे अखिल भारतीय संत समिति के अध्यक्ष भी थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनके अंतिम दर्शन के लिए लखनऊ पीजीआई पहुंचे।
    Swami-hansdevachaary-ka-sadak-haadse-me-nidhan-mukhymantri-ne-jataya-shoak
    स्वामी हंसदेवाचार्य का सड़क हादसे में निधन, मुख्यमंत्री ने जताया दु:ख
    इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वामी हंसदेवाचार्य जी के निधन से समाज को अपूरणीय क्षति हुई है। वह एक वरिष्ठ धर्माचार्य थे। उन्होंने विभिन्न अध्यात्मिक एवं धार्मिक दायित्वों का कुशलतापूर्वक निर्वहन किया। वे अत्यन्त लोकप्रिय संत थे। उनके निधन से पूरा धर्म परिवार शोकाकुल में है। स्वामी जी के धार्मिक एवं आध्यात्मिक कृत्यों को धर्म परिवार के सभी सदस्य आगे बढ़ाएंगे।

    गौरतलब है कि कुंभ से लौटते वक्त सड़क हादसा हुआ। स्वामी हंसदेवाचार्य का पार्थिव शरीर हेलीकॉप्टर से लखनऊ से हरिद्वार लाया जा रहा है। हरिद्वार आश्रम में पार्थिव देह को अंतिम दर्शनों के लिए रखा जाएगा। 23 फरवरी को हरिद्वार में उनका अंतिम संस्कार होगा।

    स्वामी हंसदेवाचार्य के निधन पर पूरे संत समाज ने गहरा शोक व्यक्त किया है, वे राम मंदिर निर्माण आंदोलन से तो जुड़े थे ही साथ में वैरागियों के मुखिया भी थे और प्रयागराज में महाकुंभ में सबसे बड़ा शिविर लगाया था। इस शिविर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर रुके थे।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.