Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ओमनी कार में गैस भरते समय अचानक लगी आग


    पाली:- कस्बे के बरगद चौराहे के समीप ओमनी कार में गैस भरते समय अचानक लगी आग ने इतना विकराल रूप ले लिया कि नगर पंचायत के साथ फायर बिग्रेड की मदद से लगभग 2 घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका।अनुमान लगाया जा रहा है कि लगभग 15 लाख रुपये का नुकसान अग्निकांड में हुआ है।

    Omni-car-me-gas-bharte-samay-achanak-lagi-aag
    ओमनी कार में गैस भरते समय अचानक लगी आग 
    पाली-रूपापुर मार्ग पर बरगद चौराहे के समीप स्थित नगर  मसलूफ पुत्र किफायत गुमटी रखकर बैट्री की मरम्मत आदि कार्य करते हैं।शनिवार की दोपहर वह अपने भाई शान मोहम्मद की ओमनी कार में गैस बैट्री द्वारा गैस भर रहे थे तभी अचानक निकली चिंगारी आग के शोलों में तब्दील हो गयी।ओमनी कार में लगी आग ने इतना विकराल रूप धारण कर लिया कि मसलूफ की गुमटी के साथ काजीसराय मोहल्ले के ही एजाज पुत्र रज्जाक की मीट की गुमटी,छोटे पुत्र हनीफ टायर जोड़ने की गुमटी,रक्षपाल पुत्र राम शंकर की कोल्ड-ड्रिंक की गुमटी के साथ विरहाना मोहल्ले के वाहजाद पुत्र बन्ने ट्रैक्टर पार्ट्स बनाने की गुमटी को अपनी चपेट में ले लिया।रक्षपाल की गुमटी के पास आग पहुंचते ही उनकी गुमटी के पीछे लगे उनके ही लकड़ी के ढेर में आग लग गयी।आग इतनी भयानक थी कि कुछ दूरी पर खड़े बेनीगंज मोहल्ले के कृष्ण मुरारी पुत्र विजय कुमार के ट्रैक्टर के पहिए को चपेट में ले लिया जिससे उसका पहिया जल गया।सूचना मिलने पर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक गोपाल नारायण सिंह ने अधिशासी अधिकारी अवनीश कुमार शुक्ल से आग पर काबू पाने के लिए पानी के टैंकर व जेसीबी भिजवाने को कहा।तत्काल अधिशासी अधिकारी ने जेसीबी के साथ पानी के कई टैंकर मौके पर भिजवाए जिनसे पानी लेकर नगर वासियों ने अधिकांश आग पर काबू पा लिए।

    बाद में पहुंची फायर बिग्रेड द्वारा पूर्ण तरीके से आग पर काबू पा लिया।क्षेत्राधिकारी शाहाबाद उमाशंकर सिंह,ईओ अवनीश कुमार शुक्ल,लेखपाल प्रमोद कुमार मिश्र ने आग पर काबू पाने के ही पहुंच गए थे।अनुमान लगाया जा रहा है कि इस अग्निकांड से लगभग 15 लाख रुपये का नुकसान हुआ है।सबसे ज्यादा नुकसान रक्षपाल का हुआ है।रक्षपाल सूखी लकड़ी खरीद कर बेचने का कार्य करते थे।

    शुभम वाजपेई 
    ब्यूरो चीफ INA न्यूज़ 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.