Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    भाकियू लोकतांत्रिक ने विशाल प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन


    शाहाबाद(हरदोई)- भाकियू लोकतांत्रिक ने कोतवाली द्वार पर किसान  पँचायत लगाकर डिप्टी जिसमें गन्ने का मूल्य हो 400 रु प्रति कुंतल किए जाने की मांग मुख्य रूप से की गई।
    Bhakiyu-loktantrik-ne-vishal-pradarshan-kar-diya-gyapan
    भाकियू लोकतांत्रिक ने विशाल प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन
    भारतीय किसान युनियन लोकतांत्रिक के बैनर तले सैकड़ो किसानो ने शाहाबाद कोतवाली प्रांगण में पँचायत लगाकर जोरदार धरना प्रदर्शन किया,जिसमें कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष श्यामू शुक्ला ने कहा चुनावी साल में ज्यादा गन्ना मूल्य मिलने की आस लगाए किसानों के सपने एकाएक टूट गए हैं। यूपी सरकार ने मौजूदा पेराई सत्र 2018 -2019 के लिए एक भी पैसे की गन्ना मूल्य में बढ़ोत्तरी नहीं की है। सरकार के इस कदम को शुगर बाउल में किसानों के लिए कड़वाहट भरे फैसले के तौर पर देखा जा रहा है। इससे किसान बेहद खफा हैं। उन्होंने सरकार को अत्याचारी, किसान की दुश्मन होने के साथ इस फैसले को तुगलकी तक कह डाला। किसान संगठनों का कहना है कि इस गंभीर चोट को वह कभी नहीं भूलेंगे। किसानों की आय दुगनी करने के दावे को ढकोसला  बताते हुए उन्होंने चेतावनी दी कि दुखी किसान 2019 में सरकार से हिसाब चुकता किया जाएगा । किसान संगठन लगातार कम से कम 370 रुपये क्विंटल की मांग करते रहे हैं। गन्ना मूल्य तय करने के लिए आधार माने जाने वाले शाहजहांपुर गन्ना शोध संस्थान की रिपोर्ट में भी 290 रुपये खर्च की पुष्टि करने के बाद पिछले साल के दाम से इस साल गन्ना मूल्य में कम से कम 10 रुपये क्विंटल की बढ़ोत्तरी की आस किसानों को थी। अब गन्ना मूल्य पिछले साल की तरह अगेती जाति का 325, सामान्य जाति का 215 और अस्वीकृत प्रजाति का 310 रुपये प्रति क्विंटल रहेगा। 

    किसान नेता राहुल मिश्रा   ने इस मुद्दे पर दो टूक कहा कि मौजूदा सरकार किसान विरोधी हैं। उसने किसानों बर्बाद कर दिया। गन्ना मूल्य नहीं बढ़ाया जाना तुगलकी फरमान है। पहले गन्ना बकाया नहीं दिया और अब गन्ना मूल्य नहीं बढ़ाया। बिजली, डीजल, खाद के दाम बढ़ा दिए। जगह जगह किसानो के साथ अधिकारी लूट का खुला खेल रहे है किसी भी विभाग में किसान जाए उसके साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। सेंटरो पर गन्ना उतराई के नाम लूट हो रही है किसान शांत नहीं बैठेगा। 2019 में इसका हिसाब चुकता करेगा। इसी आक्रोश के चलते थानों पर प्रदर्शन कर अपनी मांगों को सरकार तक पहुंचाया जा रहा है और जल्द ही बड़े आंदोलन करने की रणनीति पर भी विचार होगा।आदि समस्याओं को लेकर प्रथम चरण में जिले के 6 थानों पर विरोध प्रदर्शन कर सबन्धित अधिकारी को ज्ञापन दिया जा रहा है.

    कार्यक्रम में प्रदेश कार्यवाहक अध्यक्ष प्रदीप शुक्ला श्यामू,तहसील अध्यक्ष शाहाबाद राहुल मिश्रा , पिहानी ब्लाक अध्यक्ष सत्यवीर सिंह ,अभिषेक कुमार ,शिवम पांडे तहसील उपाध्यक्ष,भोले सिंह,शिंब्बू सिंह,विष्णु सिंह,सर्वेश गौतम,बबलू यादव अनिल बाजपाई,अखिलेश बाजपेई,के साथ सैकड़ो किसान मौजूद रहे।प्रदर्शन के दौरान स्थानीय कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक दीनानाथ मिश्रा, पाली थानाध्यक्ष राजेश्वर त्रिपाठी,मझिला थानाध्यक्ष अशोक कुमार यादव समेत पर्याप्त पुलिस जवान तैनात रहे।

    रिपोर्ट- अतुल मिश्रा 
    INA न्यूज़ 


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.