Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पेट्रोल, डीजल के दाम में कटौती जारी


    नई दिल्ली, 3 नवंबर - पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को भी कटौती दर्ज की गई। पेट्रोल का दाम लगातार चौथे दिन घटा है, जबकि डीजल के दाम में लगातार तीसरे दिन कटौती की गई है। पिछले एक महीने में पेट्रोल का दाम दिल्ली और कोलकाता में करीब पांच रुपये तो मुंबई में करीब सात रुपये लीटर कम हुआ है, जबकि चेन्नई में पांच रुपये से ज्यादा की कमी दर्ज की गई है।


    दिल्ली में पेट्रोल का दाम 19 पैसे घटकर 78.99 रुपये प्रति लीटर हो गया है और डीजल का भाव 11 पैसे घटकर 73.53 रुपये लीटर हो गया है।

    कोलकाता में भी पेट्रोल का भाव 19 पैसे की कटौती के साथ 80.89 रुपये और डीजल का दाम 11 पैसे घटकर 75.39 रुपये लीटर हो गया है। मुंबई में पेट्रोल का दाम 19 पैसे घटकर 84.49 और डीजल का भाव 12 पैसे घटकर 77.06 रुपये प्रति लीटर हो गया है। चेन्नई में पेट्रोल का भाव 20 पैसे घटकर 82.06 रुपये लीटर और डीजल का दाम 12 पैसे घटकर 77.73 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

    पिछले एक महीने में दिल्ली में पेट्रोल का भाव रिकॉर्ड उच्च स्तर से पांच रुपये प्रति लीटर नीचे आया है। वहीं, कोलकाता में पेट्रोल का भाव रिकॉर्ड स्तर से करीब पांच रुपये प्रति लीटर फिसला है। मुंबई में पेट्रोल का भाव पिछले एक महीने में 6.85 रुपये और चेन्नई में 5.27 रुपये प्रति लीटर कम हुआ है। 

    दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम का रिकॉर्ड उच्च स्तर क्रमश: 84 रुपये, 85.80 रुपये, 91.34 रुपये और 87.33 रुपये प्रति लीटर रहा है।

    पिछले एक महीने में दिल्ली में डीजल का भाव रिकॉर्ड उच्च स्तर से 2.92 रुपये प्रति लीटर नीचे आया है। वहीं, कोलकाता में डीजल का भाव रिकॉर्ड स्तर से 1.91 रुपये प्रति लीटर फिसला है। मुंबई में डीजल का भाव पिछले एक महीने में तीन रुपये और चेन्नई में दो रुपये प्रति लीटर कम हुआ है। 

    दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में डीजल के दाम का रिकॉर्ड उच्च स्तर क्रमश: 75.45 रुपये, 77.30 रुपये, 80.10 रुपये और 79.89 रुपये प्रति लीटर रहा है।

    पिछले महीने चार अक्टूबर को पेट्रोल और डीजल की कीमतें रिकॉर्ड उच्च स्तर पर चली गई थीं, जिसके बाद केंद्र सरकार ने तेल के दाम में 2.50 रुपये प्रति लीटर की कटौती की घोषणा की थी। 

    पेट्रोल और डीजल पर वैट में 1.50 रुपये प्रति लीटर की कटौती की गई थी और एक रुपये प्रति लीटर की कटौती का भार तेल विपणन कंपनियों को उठाने को कहा गया था।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.