Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    खाद वितरण में अनियमितता बरतने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी:- जिलाधिकारी


    हरदोई- जिलाधिकारी पुलकित खरे के निर्देश पर विगत दिनों उप जिलाधिकारी, तहसीलदार व नायब तहसीलदारों द्वारा साधन सहकारी समिति की दुकानों एवं गोदामों का औचक निरीक्षण किया गया। 

    Khaad vitran-ne-aniymitata-bartane-balo-par-kadi-karyvaahi-ki-jayegi--jiladhkari
    खाद वितरण में अनियमितता बरतने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी:- जिलाधिकारी
    तहसीलदार शाहाबाद द्वारा साधन सहकारी समिति आमतारा के निरीक्षण में सब ठीक पाया गया परन्तु अयारी में दुकान व गोदाम बन्द मिले। एसडीएम बिलग्राम के बाबटमऊ निरीक्षण में समिति बन्द पायी गयी तथा लोगों ने बताया कि समिति लगभग दस वर्षो से बन्द है। तहसीलदार सदर के बैनर लगा नहीं पाया गया तथा किसानों से बात करने पर पाया कि डीएपी 1450 रू0 में मिल रही है। ब्लाक अहिरोरी के बेहटा मुर्तजाबक्स में रजिस्टर प्रमाणित नही था और 68 पर्चियां कैश मेमो पर बिना दर लिखी मिली तथा 21 नवम्बर के बाद किसानों के आधार नम्बर दर्ज नही पाये गये।

    तहसीलदार सवायजपुर के पलिया निरीक्षण में सचिव अनुपस्थित मिले और किसानों ने बताया कि डीएपी 1290 एवं 1300 रू0 में मिल रही है, हरपालपुर के निरीक्षण में समिति बन्द होने के कारण सत्यापन नही कर सके तथा चैकीदार ने बताया कि खाद बट गयी है। कुछ किसानों ने बताया कि उन्हंे दस से डीएपी नहीं मिली है। एसडीएम सदर के निरीक्षण में न्यौरादेव समिति पर प्रभारी उपस्थित मिले तथा किसानों ने बताया कि उन्हे खाद सही दर पर मिल रही है, सकतपुर निरीक्षण में प्रभारी अनुपास्थित थे तथा स्टाक में एपीके 155, डीएपी 01 व यूरिया 240 बोरी मिली। एसडीएम शाहाबाद के आगमपुर समिति पर सब ठीक मिला, शाहाबाद देहात समिति पर किसानों के मोबाइल नम्बर लिखे नही पाये गये तथा मंसूर नगर में गोदाम बन्द मिली और पास की मार्केट में खाद की दुकानें पायी गयी जो निरीक्षण के दौरान बन्द कर दी गयी। 

    एसडीएम सण्डीला के सरेहरी में समिति बन्द मिली और रजिस्टर पर किसानों के मोबाइल नम्बर दर्ज नही पाये गये। बालामऊ वाण में गोदाम प्रभारी अनुपस्थित थे और संचालन पूर्व प्रधान विजय कुमार करते पाया गया इस पर एडीएम ने प्रभारी पंकज सिंह एवं पूर्व प्रधान के विरूद्व कार्यवाही हेतु जिलाधिकारी को संस्तुति की। कछौना पतसेनी समिति के निरीक्षण में रजिस्टर अध्यावधी नही पाया गया, स्टाक में खाद नही थी और रजिस्टर पर जगह जगह सफेदा लगा मिला तथा किसानों के हस्ताक्षर भी नही पाये गये।

    नायब तहसीलदार बिलग्राम के बम्हनाखेड़ा समिति के निरीक्षण में रजिस्टर पर किसानों के मो0 नम्बर नही पाये गये तथा किसानों द्वारा डीएपी की किल्लत बतायी गयी। तहसीलदार सदर के खरिका समिति बैलेन्स शून्य मिला तथा जामू समिति निरीक्षण में 05 बोरी डीएपी कम मिली। नायब तहसीलदार बिलग्राम के दारूकुइंयां समिति के निरीक्षण में मालूम हुआ कि सचिव चार दिन से छुट्टी पर है और समिति बन्द होने के कारण सत्यापन नही कर सके। एसडीएम सवायजपुर के बरसोहिया समिति के निरीक्षण में मालूम हुआ कि सचिव पैसा जमा कराने हरदोई गये है और खाद 1300 रू0 में दी जाती है।सल्होनी समिति पर सचिव अनुपस्थित मिले तथा रजिस्टर नही मिलने पर सत्यापन नही कर सके। तहसीलदार बिलग्राम के भिठारी समिति के निरीक्षण में 24 बोरी डीएपी कम पायी गयी तथा न्यौली में स्टाक आदि ठीक पाया।

    अधिकारियों की आख्या पर जिलाधिकारी ने बताया कि अययारी व बाबटमऊ समिति जो लगभग 10 वर्षो से बन्द होने की जानकारी मिली है और इन समितियों जिले स्तर से खाद का आवंटन किया गया है जो अत्यंत खेद जनक है। उन्होने कहा है कि इस प्रकरण की जांच कराई जा रही है और जो भी दोषी पाये जायेगें उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होने बताया कि अनुपस्थित सचिव, किसानों के मोबाइल नम्बर दर्ज न होने, बन्द समिति के सचिवो को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है। उन्होने कहा है कि आगे भी इसी तरह साधन सहकारी समिति की दुकानो  एवं गोदामों का निरीक्षण कराया जायेगा और कमी पाये जाने पर संबंधित के विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी।

    शरद द्धिवेदी
     INA न्यूज़  

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.