Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कांग्रेस नेता सी. पी. जोशी ने बयान पर माफी मांगी


    नई दिल्ली, 23 नवंबर- भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा कड़ी प्रतिक्रिया व अपनी पार्टी द्वारा फटकारे जाने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सी.पी.जोशी ने शुक्रवार को अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांग ली। जोशी ने अपनी टिप्पणी में कहा था कि 'सिर्फ ब्राह्मण हिंदू धर्म के बारे में बोल सकते हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय मंत्री उमा भारती नहीं।

    Congress-Neta-CP-Joshi-Ne-Bayaan-Par-Maafi-Maangi
    कांग्रेस नेता सी. पी. जोशी ने बयान पर माफी मांगी

    वायरल हुए एक वीडियो में जोशी यह कहते देखे जा रहे हैं, "यह अजीब है कि लोधी समुदाय की उमा भारती हिंदू धर्म के बारे में बात कर रहीं हैं, नरेंद्र मोदी किसी और धर्म के हैं और वह बात हिंदू धर्म पर करते हैं।इस वीडियो में जोशी यह भी कहते दिख रहे हैं, "इस देश में अगर कोई धर्म के बारे में जानता है तो वह पंडित व ब्राह्मण हैं।इस वीडियो को भाजपा के कई नेताओं व मंत्रियों ने जोशी व कांग्रेस की निंदा करते हुए सोशल मीडिया में साझा किया है।

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जोशी की इस टिप्पणी की कड़ी निंदा की। राहुल गांधी ने कहा कि यह कांग्रेस की विचारधारा के खिलाफ है और जोशी को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।राहुल गांधी ने कहा, पार्टी के सिद्धांतों और अपने कार्यकर्ताओं की भावना का आदर करते हुए जोशी निश्चित रूप से अपनी गलती का एहसास करेंगे। उन्हें अपने बयान के लिए अफसोस जाहिर करना चाहिए।

    राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं को समाज के किसी तबके की भावनाओं को चोट पहुंचाने वाले बयान से दूर रहने के लिए कहा,राहुल गांधी की फटकार के तुरंत बाद जोशी ने माफी मांगी।

    जोशी ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, "कांग्रेस की विचारधारा व पार्टी कार्यकर्ताओं की भावनाओं का मैं आदर करता हूं। अगर मेरे बयान से समाज किसी तबके की भावनाएं आहत हुई हैं तो इसके लिए मैं शर्मिदा हूं।जोशी की टिप्पणी को लेकर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए भाजपा ने कांग्रेस पर जाति व विभाजन की राजनीति में लिप्त होने का आरोप लगाया और पार्टी से जोशी के निष्कासन की मांग की।

    भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, "जोशी की टिप्पणी कांग्रेस की जाति व संप्रदाय की राजनीति को दिखाती है। जोशी ने उमा भारती की व मोदी की जाति का उल्लेख किया, क्या लोधी समुदाय सम्मान का अधिकार नहीं रखता। कांग्रेस की लोगों की बांटने की राजनीति से कोई नतीजा हासिल नहीं होगा।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.