Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ताजिया लेकर कर्बला जा रहा तजियादार अचानक हाईटेंशन लाइन से टकराया




    मुरादाबाद- मुरादाबाद जनपद के मझोला थाना क्षेत्र में देर रात उस वक्त हड़कम्प मच गया जब कर्बला ले जाया जा रहा ताजिया अचानक बिजली की हाईटेंशन लाइन से टकरा गया और ताजिये में धमाके के साथ आग लग गयी। हाईटेंशन लाइन की चपेट में आये ताजिये में करेंट उतरने से बत्तीस तजियादार झुलस गए जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे के बाद मौके पर भगदड़ मच गई और आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस और प्रशासन के आलाधिकारियों ने बमुश्किल लोगों को शांत किया। जिला अस्पताल में भर्ती कई घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है।

    taziya-lekar-karwla-ja-taziyadaar-achanak-haightension-line-se-takraya
    ताजिया लेकर कर्बला जा रहा तजियादार अचानक हाईटेंशन लाइन से टकराया 
    आज देर शाम अमरोहा के डिडौली थाना क्षेत्र में हुए हादसे से अगर मुरादाबाद प्रशासन सबक ले लेता तो शायद देर रात मझोला क्षेत्र में हादसा टाला जा सकता था। मझोला के जयंतीपुर में ताजिया लेकर कर्बला जा रहें तजियादार अचानक बिजली की ट्रांसमिशन लाइन की चपेट में आ गए। हादसे के वक्त जोरदार धमाका होने के बाद ताजिये में आग लग गयी और ताजिया लेकर जा रहें लोग एक झटके में जमीन पर गिर पड़े।

    जलते ताजिये के नीचें दबकर कई तजियादार झुलस गए और आस-पास खड़े बच्चों और महिलाओं में भगदड़ मच गई। स्थानीय लोगों ने बमुश्किल बिजली के करेंट की चपेट में आकर बेहोश हुए लोगों को बाहर खींचा और इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। ताजिये में करेंट उतरने की सूचना पर प्रशासन में हड़कम्प मच गया और आनन-फानन में अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचकर राहत और बचाव के काम में जुट गए।  हादसे के बाद कुल 32 लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां दो लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। घायलों की शिनाख्त कर उनके परिजनों को जानकारी दी जा रही है। 

    हादसे के बाद अस्पताल के सभी कर्मियों को ड्यूटी पर बुलाया गया है साथ ही सीएमएस खुद भर्ती हुए घायलों को मॉनिटर कर रहीं है। जिला अस्पताल में घायलों की स्थिति जानने के लिए डीएम, एसएसपी सहित तमाम पुलिस प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे है जबकि मौके पर आक्रोशित लोगों को समझाने के लिए एसपी सिटी और एडीएम सिटी को सूचना मिलते ही रवाना कर दिया गया।  आक्रोशित लोग हादसे के लिए विधुत विभाग को जिम्मेदार ठहरा रहें है। घायल तजियादारों का कहना है की ताजिया के रास्ते में बिजली के तार थे जिनमें हाईवोल्टेज करेंट दौड़ रहा था। डीएम राकेश कुमार के मुताबिक ताजिया ले जाते समय कुछ युवक ताजिये पर चढ़कर ट्रांसमिशन लाइन के तार ऊपर करने की कोशिश कर रहें थे उसी वक्त यह हादसा हुआ। डीएम के मुताबिक ट्रांसमिशन लाइन से अन्य जनपदों को विधुत सप्लाई की जाती है लिहाजा उसे बन्द नहीं किया जा सकता है।

    ताजिये की ऊंचाई को लेकर डीएम का कहना है की थाना स्तर और कचहरी सभागार में सभी तजियादारों को पहले ही जानकारी दी गयी थी की ताजिये की ऊंचाई को लेकर तय नियमों का पालन किया जाएं। डीएम के मुताबिक अभी शुरुआती तौर पर जानकारियां प्राप्त हुई है फिलहाल घायलों को इलाज देना प्रशासन की पहली प्राथमिकता है। घटना के बाद मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है साथ ही घायलों को हायर सेंटर रेफर करने की तैयारी की जा रहीं है। अब तक तीन घायलों की गम्भीर हालत देखते हुए उन्हें निजी मेडिकल भेजने की पुष्टि डीएम द्वारा की गई है।

    रिपोर्टर-मिर्ज़ा ग़ालिब

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.