Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    प्रधानमंत्री ने भगोड़े कारोबारियों पर निशाना साधा : मोदी


    इंदौर, 14 सितम्बर - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां दाऊदी बोहरा समुदाय के अशरा मुबारक कार्यक्रम में इशारों-इशारों में नीरव मोदी, विजय माल्या और ललित मोदी सहित अन्य भगोड़े कारोबारियों पर निशाना साधा और कहा कि कुछ कारोबारियों ने छल को ही कारोबार बना लिया, लेकिन देश में कारोबार नियमों के मुताबिक ही होगा। इंदौर की सैफी मस्जिद में धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन की मौजूदगी में आयोजित कार्यक्रम में मोदी ने दाऊदी बोहरा समुदाय के व्यापार करने के कौशल की सराहना करते हुए कहा, "दाऊदी बोहरा समाज ने अपनी ईमानदारी, नियम सम्मत कार्य और अनुशासन में रहते हुए व्यापार को किस तरह आगे बढ़ाया जाता है, इस मामले में आदर्श स्थापित किया है। यह समाज जहां-जहां बसा, इन्हीं मूल्यों के आधार पर अपनी अलग पहचान बनाई।"




    मोदी ने आगे कहा, "कारोबारी और व्यापारी इस देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं। वे लोगों के लिए रोजगार पैदा करते हैं, इसलिए ऐसे कारोबारियों को जितना संभव हो, प्रोत्साहन दिया जाए, और सरकार ऐसा कर रही है। यह हमारी प्राथमिकता है।"

    कारोबार की आड़ में चूना लगाकर देश से भाग गए कारोबारियों के नाम लिए बगैर प्रधानमंत्री ने कहा, "यह भी सच है कि पांचों उंगलियां एक समान नहीं होती हैं। हमारे बीच ऐसे लोग भी हैं, जो छल को ही कारोबार मानते हैं। बीते चार वर्षो में सरकार यह स्पष्ट संदेश देने में सफल हुई है कि, जो भी हो, नियमों के दायरे में हो। सरकार द्वारा उठाए गए कई कदमों से ईमानदार कारोबारियों को प्रोत्साहन दिया जा रहा है।"

    मोदी ने आगे कहा, "दाऊदी बोहरा समाज के धर्मगुरु के सहयोग से गुजरात में जल संकट और कुपोषण को घटाने में सफलता पाई थी। यह समाज ऐसा है, जो किसी को भूखे नहीं सोने देता। इतना ही नहीं, बोहरा समाज ने 11,000 आवासों का निर्माण कर गरीबों को उपलब्ध कराए हैं, यह प्रशंसनीय कार्य है।"

    मोदी ने कहा, "दाऊदी बोहरा समाज स्वास्थ्य, स्वच्छता के लिए विशेष तौर पर काम करता है। सरकार भी लोगों के स्वास्थ्य के लिए आयुष्मान भारत योजना और सबको आवास योजना पर काम कर रही है। सरकार और समाज का काम एक ही दिशा में है।"

    इस मौके पर राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और धर्मगुरु सैयदना ने अपने विचार रखे और देश की तरक्की में अपना सहयोग देने की अपील की। 

    प्रधानमंत्री ने लगभग 31 मिनट बोहरा समाज के लोगों को संबोधित किया और सैयदना परिवार से अपने संबंधों का जिक्र किया। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी विशेष विमान से इंदौर पहुंचे, जहां उनका जोरदार स्वागत किया गया। उनका स्वागत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और अन्य लोगों ने किया। 

    इंदौर के पुलिस उप महानिरीक्षक हरिनारायण चारी मिश्रा ने संवाददाताओं से कहा, "प्रधाानमंत्री के प्रवास के मद्देनजर सुरक्षा-व्यवस्था चाकचौबंद की गई है। पुलिस बल की तैनाती के साथ ड्रोन कैमरे और सीसीटीवी भी लगाए गए हैं। इसके अलावा शहर के लोगों को परेशानी न हो, इसे ध्यान में रखकर मार्ग में बदलाव भी किया गया।"

    सैयदना दाऊदी बोहरा समुदाय के 53वें धर्मगुरु हैं। वह तीन साल बाद भारत प्रवास पर हैं, और 12 सितंबर से यहां उनके धार्मिक प्रवचन चल रहे हैं। सैयदना पहली बार इंदौर आए हैं। इससे पहले वह सूरत में आए थे। सैयदना के पिता अपने जीवनकाल में दो बार इंदौर आए थे। 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.