Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    फोटो सहित आख्या वन विभाग को 09 सितम्बर तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंः-जिलाधिकारी



    हरदोई, 06 सितम्बर 2018ः- आज कलेक्ट्रेट सभागार  में आयोजित वृक्षारोपण के संबंध में बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी ने कहा जिन विभागों द्वारा वृक्षारोपण किया गया है. वे स्थल के नाम एवं फोटो सहित आख्या वन विभाग को 09 सितम्बर तक अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें तथा लगाये वृक्षों की सुरक्षा भी यथा सम्भव की जाये। उन्होने संबंधित विभाग के अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि सभी के प्रयास से वृक्षारोपण में जनपद को 11वां स्थान प्राप्त हुआ है। इस अवसर पर डीएफओ राकेश चन्द्रा ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में वनरोज एवं जंगली सुअरों से किसानों की फसलों को नुकसान करने की शिकायतें प्राप्त हो रही है और इस सम्बन्ध में वनरोज एवं जंगली सुअरों के मारने हेतु किसान वन विभाग के परमिट प्राप्त कर सकते है।

    PHOTO-SAHIT-AKHYA-BAN-VIBHAG-KO-9-SEPTEMBER-TK-UPLBHDH-KARANA-SUNISHIT-KARE-JILADHIKARI
    फोटो सहित आख्या वन विभाग को 09 सितम्बर तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंः-जिलाधिकारी
    रानी लक्ष्मीबाई महिला एवं बाल सम्मान कोष बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि नवीन प्राप्त आवेदन पत्रों में पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट संलग्न करते हुए आख्या प्रस्तुत की जायें। जिला प्रोबेशन अधिकारी ने बताया कि 16 नवीन प्रकरण लंबित है जिनके खाता खोलने की कार्यवाही की जा रही है तथा पुराने 09 प्रकरणों में 08 की आख्या महिला कल्याण विभाग को क्षतिपूर्ति हेतु भेजी जा चुकी है शेष प्रकरण की रिपोर्ट शीघ्र भेज दी जायेगी। उन्होने बताया कि आशा ज्योति केन्द्र के लिए जिला अस्पताल के सामने भूमि उपलब्ध हो गयी है और जल्द ही केन्द्र का निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जायेगा।

    बैठक में मा0 मुख्यमंत्री के 61 विकास कार्यो के प्रारूप की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी स्वास्थ्य विभाग की सीएचसी/पीएचसी निर्माण के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने संबंधित निर्माण एजेंसियों को निर्देश दिये कि अपूर्ण सीएचसी/पीएचसी के निर्माण समयसीमा के अन्दर कराना सुनिश्चित करें। अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिये कि जिन कालेजों द्वारा छात्र-छात्राओं की संख्या अभी तक नही भेजी गयी है उन्हें नोटिस जारी की जाये कि शीघ्र छात्र/छात्राओं की संख्या भेजना सुनिश्चित करें ताकि उनके छात्रवृत्ति से संबंधित डाटा शासन का भेजा जा सके। विधवा, वृद्वा एवं दिव्यांग पेंशन के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी तरह की पेंशन प्राप्त करने वाले लाभार्थियों का शतिप्रतिशत सत्यापन कराया जाये और जिन ब्लाक के एडीओ द्वारा पेंशन सत्यापन में लापरवाही की जा रही हो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करें।

    पाइप पेयजल परियोजना के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने जिला जल निगम अधिकारी को निर्देश दिये कि राष्ट्रीय ग्रामीण पाइप पेयजल योजना के तहत जो पांच परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है उनमें से 02 परियोजनाओं को 15 दिन में संचालित करना सुनिश्चित करें। बाल विकास विभाग की ओर से निर्मित होने वाले आंगनवाड़ी केन्द्रों की समीक्षा में बताया गया कि सभी आंगनबाड़ी केन्द्र निर्मित हो गये है केवल विद्युतीकरण होना शेष है इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता विद्युत को निर्देश दिये कि सभी नवीन आंगनवाड़ी केन्द्रों पर 02 अक्टूबर 2018 से पहले विद्युतीकरण करना सुनिश्चित करें। सेतु निगम एवं सड़क निर्माण के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने पीडब्लूडी, पीएमजीएसवाई व आरईएस विभाग को निर्देश दिये कि जिन सड़कों एवं सेतु निर्माण हेतु धनराशि प्राप्त हो गयी है उनका निर्माण तत्काल प्रारम्भ कराते हुए समयसीमा में गुणवत्ता परक एवं मानक के अनुरूप पूर्ण करायें। बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा में उन्होने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि सभी विद्यालयों में कापी-किताब एवं डेªस वितरण शतप्रतिशत कराना सुनिश्चित करें।

    गन्ना विभाग की समीक्षा में जिलाधिकारी ने जिला गन्ना अधिकारी को निर्देश दिये कि जिन किसानों का गन्ने का भुगतान बकाया उसे चीनी मिलों से एक सप्ताह में कराना सुनिश्चित करें और जिन चीनी मिलों द्वारा इसमें विलम्ब किया जाये उनके विरूद्व कड़ी कार्यवाही करायें। नहरों एवं नालों के अतिक्रमण के सम्बन्ध में उन्होने अधिशासी अभियंता शारदा नहर को निर्देश दिये कि जिन स्थानों पर नहरों की पटरी आदि पर अतिक्रमण कर आवास आदि बना लियें गये है उन्हें नोटिस जारी करते हुए निर्धारित तिथि के अनुसार अतिक्रमण अभियान चला कर अतिक्रमणकारियों को हटाया जाये और उनके विरुद्ध एफआईआर भी दर्ज करायी जाये ताकि वह दोबारा अतिक्रमण न करें। अधिशासी अभियंता ने जिलाधिकारी को बताया कि वर्तमान में गंगा का जल स्तर खतरे के निशान के करीब है, रामगंगा खतरे के निशान से उ्पर बह रही है तथा गर्रा का जलस्तर कम हो रहा है।

    इसके उपरान्त सांसद निधि से कराये कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने जिला क्रीड़ा अधिकारी को निर्देश दिये कि उन्हें सांसद निधि से जो धनराशि प्राप्त हुई है उससे बैंट मिन्टन हाल आदि का कार्य तत्काल कराना सुनिश्चित करें। सांसद निधि से विद्यालयों एवं अन्य निर्माण कार्यो की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सांसद निधि से प्राप्त होने वाली धनराशि से होने वाले निर्माण कार्य, लाइट, हैण्ड पम्प आदि को प्राथमिकता पर कराया जाये और सूचन संबंधित विभाग को नियमित प्रेषित की जाये। उन्होने कहा कि जिन ठेकेदारों द्वारा निर्माण या अन्य कार्यो को पूरा करने में लापरवाही बरती जा रही उनको बैक लिस्ट करने के साथ उन पर एफआईआर दर्ज कराई जायें।

    समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी एस0के0रावत, अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, जिला वन अधिकारी राकेश चन्द्रा, जिला अग्रणी बैंक प्रबन्धक सहित अन्य सभी संबंधित विभाग के अधिकारी आदि मौजूद रहें।  

    शुभम बाजपेई 
    INA न्यूज़ ब्यूरो चीफ 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.