Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कर्नाटक के जिले में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त.


    बेंगलुरू 18 अगस्त- कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने शनिवार को कहा कि राज्य के कोडागु जिले में भारी बारिश से भूस्खलन और बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। कुमारस्वामी ने यहां संवाददाताओं से कहा,बारिश ने कोडागु में भारी तबाही मचाई है। राज्य अधिकारियों के साथ भारतीय सेना के जवान, नौसैनिक युद्ध स्तर पर बचाव व राहत अभियान चला रहे हैं.


                             कर्नाटक के जिले में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त.
    जून के पहले सप्ताह से शुरू हुए दक्षिणपश्चिम मानसून की बारिश से दक्षिणी राज्य के सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में से कोडागु भी एक जिला है।

    मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा, गुरुवार से जिले में भूस्खलन और भारी बारिश से छह लोगों की मौत हो चुकी है।

    कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र (केएसएनडीएमसी) के मुताबिक, जिले में अधिकतम 25.3 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई है पिछले 24 घंटों के दौरान 11.9 सेंटीमीटर की औसत बारिश हुई है।

    स्थानीय मीडिया के मुताबिक, सैकड़ों लोग जिले की विभिन्न पहाड़ियों में अभी भी फंसे हुए हैं।

    कुमारस्वामी ने कहा, भारी बारिश और तेज हवाओं ने खंभों को उखाड़ दिया, जिसके कारण दूरसंचार सेवा बाधित हुई और फोन लाइन खराब हो गई, जिन्हें प्राथमिकता के साथ बहाल किया जा रहा है।" 

    कार्यालय द्वारा शुक्रवार रात को जारी बयान में कहा गया, डोगरा रेजिमेंट के करीब 60 जवान और नौसेना के 12 विशेषज्ञ गोताखोरों ने बाढ़ग्रस्त जिले में 873 असहाय लोगों को बचाया है।

    राष्ट्रीय व राज्य आपदा राहत बलों के लगभग 60 सदस्य और नागरिक रक्षा के 45 सदस्य पहाड़ी जिले के मदिकेरी में नौकाओं व उपकरणों के साथ बचाव और राहत कार्यों में शामिल हुए हैं।

    कुमारस्वामी ने केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से कोडागु में बचाव अभियान के लिए अतिरिक्त सैन्य बल तैनात करने का अनुरोध किया है।

    अभी तक जिला प्रशासन ने 17 राहत शिविरों में 573 लोगों को भेजा है।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.