Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    हमारे सौरमंडल से बाहर के ग्रहों पर भी प्रचुर जल : शोध

    वाशिंगटन, 20 अगस्त-पृथ्वी के अलावा सौरमंडल के बाहर दूसरे ग्रहों (एक्सोप्लेनेट) पर भी पानी के इसके प्रमुख घटक होने की संभावना है। ये ग्रह पृथ्वी के आकार से दो से चार गुना बड़े हैं। ऐसा एक नए शोध में सामने आया है। इसका संबंध हमारे आकाशगंगा में जीवन से जुड़े खोज से हो सकता है। 

    hamre-saurmandal-se-bahar-ke-graho-per-bhi-prachur
    हमारे सौरमंडल से बाहर के ग्रहों पर भी प्रचुर जल : शोध

    एक्सोप्लेनेट में पूर्व में भी पानी की मौजूदगी की बात सामने आती रही है, लेकिन इस शोध के जरिए यह निष्कर्ष निकाला गया है कि हमारे सौर मंडल से बाहर जल वाले ग्रह होना सामान्य है। इस शोध को गोल्डस्मिट सम्मेलन में बोस्टन, मेसाचुसेट्स में प्रस्तुत किया गया।नया शोध एक्सोप्लेनेट केपलर स्पेस टेलीस्कोप व गेइया मिशन के डाटा पर आधारित है। इसमें संकेत मिलता है कि बहुत से ज्ञात ग्रहों पर 50 फीसदी तक पानी हो सकता है, जो कि पृथ्वी के जल की मात्रा से 0.02 फीसदी (वजन से) से ज्यादा हो सकता है।हार्वर्ड विश्वविद्यालय के प्रमुख शोधकर्ता ली जेंग ने कहा, "यह हैरान करने वाली बात है कि वहां इतना सारा पानी है।"वैज्ञानिकों ने पाया है अब तक 4,000 एक्सोप्लेनेट खोजे गए हैं।

    इस शोध के लिए, वैज्ञानिकों ने गेइया उपग्रह से एक्सोप्लेनेट के मॉस मापन व हाल के त्रिज्या मापन का विश्लेषण करने के बाद एक्सोप्लानेट्स की आंतरिक संरचनाओं के लिए एक मॉडल विकसित किया।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.