Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    उप्र की नई पर्यटन नीति से लोगों को मिलेगा रोजगार : रीता जोशी


    लखनऊ, 19 फरवरी - उत्तर प्रदेश सरकार की पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने सोमवार को कहा कि राज्य सरकार ने नई पर्यटन नीति बनाई है, जिससे बड़े पैमाने पर लोगों को रोजगार मिलेगा। लाल बहादुर शास्त्री भवन में पत्रकारों से बातचीत के दौरान रीता जोशी ने कहा कि पर्यटन को मिले उद्योग के दर्जे के कारण योगी सरकार के कार्यकाल में ही पर्यटन के क्षेत्र मे उप्र देश के शिखर पर पहुंच जाएगा।


    उन्होंने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में प्रतिवर्ष कम से कम 5,000 करोड़ रुपये के निवेश के दावे किए जा रहे हैं, जिसमें इन्वेस्टर्स मीट के पहले ही करीब 10,000 करोड़ रुपये के निवेश से जुड़े 23 प्रस्ताव सरकार को मिल चुके हैं।

    जोशी ने कहा कि उप्र को पर्यटन के क्षेत्र में आगे ले जाने के लिए 15 प्रतिशत देशी और 10 प्रतिशत विदेशी पर्यटकों को उप्र के पर्यटन स्थल तक लाने का लक्ष्य रखा गया है। 

    पर्यटन मंत्री ने कहा, "बजट में योगी सरकार ने रामायण, कृष्ण, बौद्घ, जैन, सूफी-कबीर, महाभारत, बुन्देलखंड सर्किट बनाने की घोषणा की है। पर्यटन के क्षेत्र में निवेश करने वाले निवेशकों को सिंगल विंडो के जरिए निवेश से जुड़ी हर प्रक्रिया को पूरी करने की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।"

    रीता जोशी ने कहा कि होटल, रिसोर्ट, वेलनेस सेंटर को 15 प्रतिशत, कम बजट होटल और एडवेंचर- वाइल्ड-लाइफ टूरिज्म के तहत बनने वाले टेन्ट्स को 20 प्रतिशत के साथ ही हेरिटेज और लाईट एंड साउंड से जुड़े नए प्रोजेक्टस को सर्वाधिक 25 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.